अध्यापकों-छात्रों को एक साथ प्रशिक्षण

कार्यालय संवाददाता, हमीरपुर

सर्व साक्षरता अभियान के तहत विद्यार्थियों की बेहतरी के लिए चलाए जाने वाले विभिन्न कार्यक्रमों में अब अध्यापकों के साथ विद्यार्थियों को भी सीधे प्रशिक्षण दिया जाएगा, ताकि विद्यार्थियों को पठनपाठन के नए तरीकों, उनकी कमियों को सुधारने की नई विधियों और नई बातें सिखाने के बारे में पूरी तरह से अवगत करवाया जा सके। इसके बाद  प्रशिक्षित चुनिंदा विद्यार्थी अपनी कक्षा के अन्य विद्यार्थियों को प्रशिक्षित करेंगे। सर्वशिक्षा अभियान के तहत विभाग ने फिलहाल समृद्धि योजना में इस प्रयोग को करने का फैसला लिया है। योजना के कई पहलुआें में बदलाव होने के बाद अध्यापकों के साथ अब विद्यार्थियों को भी प्रशिक्षिण दिया जाएगा।

इसके बाद हर स्कूल में आयोजित प्रशिक्षण कार्यक्रम में अध्यापकों के साथ विद्यार्थियों को भी सिखाया जाएगा। उल्लेखनीय है कि अपर प्राइमरी कक्षाओं के लिए चलाई गई समृद्धि योजना में विभाग ने अब कुछ फेरबदल कर दिए हैं। इसमें थ्योरी की जगह अब प्रैक्टिकल पर जोर दिया जा रहा है। इस योजना के विद्यार्थियों को गणित, विज्ञान और अंग्रेजी विषय की बारीकियां सिखाई जा रही हैं। योजना में विद्यार्थियों को फर्राटेदार अंग्रेजी बोलना सिखाया जा रहा है। इसमें छठी से आठवीं कक्षा के विद्यार्थियों को अध्यापक से अंग्रेजी में ही बात करनी होगी। इसका प्रशिक्षण अब फिलहाल अध्यापकों को दिया जा रहा है। इसी तरह गणित और विज्ञान के फार्मूलों को भी प्रैक्टिकली समझाने की व्यवस्था की गई है।

वहीं अब इसके साथ ही इस योजना में विभाग ने अध्यापकों के साथ सीधे विद्यार्थियों को भी प्रशिक्षित करने का फैसला लिया है। इस योजना का सीधा प्रशिक्षण विद्यार्थियों को दिया जाएगा। योजना के तहत मास्टर टे्रनर तैयार करते समय कुछ विद्यार्थियों को टे्रनिंग दी जाएगी। सर्वशिक्षा अभियान डाइट नादौन के जिला प्रशिक्षण कार्यक्रम अधिकारी देवराज धीमान ने इस बारे में बताया कि इससे कई तरह के फायदे होंगे।

विद्यार्थी योजना को करीब से समझ सकेंगे और प्रशिक्षण के दौरान विद्यार्थियों के उपस्थित होने के कारण योजना की खामियों के बारे में विभाग को भी पता चल सकेगा। इसके साथ ही ये विद्यार्थी बाद में अपनी कक्षा को भी प्रशिक्षण देंगे और प्रशिक्षण प्राप्त अध्यापक इनकी निगरानी कर सकेंगे। इससे बच्चे
जल्दी सीखेंगे।

योजना से मिलेंगे कई फायदे

सर्व शिक्षा अभियान डाइट नादौन के जिला प्रशिक्षण कार्यक्रम अधिकारी देवराज धीमान ने इस बारे में बताया कि इससे कई तरह के फायदे होंगे। यह विद्यार्थी  योजना को करीब से समझ सकेंगे और प्रशिक्षण के दौरान विद्यार्थियों के उपस्थित होने के कारण योजना की खामियों के बारे में विभाग को भी पता
चल सकेगा।

You might also like