अब पानी को नहीं होगी किचकिच

नगर संवाददाता, शिमला

शहर में पानी के संकट से जूझ रहे शहरवासियों के लिए राहत की खबर है। स्थिति में सुधार आने की वजह से विभाग ने लोगों को हर रोज पानी देने का दावा किया है। यानी अब पानी के लिए लोगों को तीन-चार दिन इंतजार नहीं करना पड़ेगा। विभागीय अधिकारियों के मुताबिक शहर की सभी पांचों प्रमुख परियोजनाओं में सिल्ट की समस्या समाप्त हो चुकी है, जिसके चलते विभाग ने शुक्रवार को 39 एमएलडी पानी की सप्लाई की है। गुम्मा से सबसे अधिक 15.01, गिरि से 12.54, अश्विनी से 9.04, चुरट से 1.93 तथा चेढ़ से .60 एमएलडी पानी छोड़ा गया है।  इस प्रकार सिल्ट की समस्या के कारण शहर में पानी की सप्लाई जहां सीमित हो चुकी थी वहीं अब लोगों को इसकी समस्या से निजात मिल चुकी है। अभी भी मानसून को लेकर भारी बरसात का खतरा टला नहीं है। विभाग के अधिकारियों ने बताया है कि भारी बरसात के बावजूद शहर में जल संकट की स्थिति नहीं आने दी जाएगी। विभाग के अधिशाषी अभियंता एलआर भारद्वाज ने बताया कि मौसम के खुलने से परियोजनाओं में भारी गाद तल पर बैठने से स्थिति में काफी सुधार हो चुका है। विभाग इस कारण अधिक पानी की लिफ्ट कर सका है जिसकी वजह से शुक्रवार को 39 एमएलडी पानी छोड़ा गया है।इससे पहले देखा जाए, तो पानी की सप्लाई करने की मात्रा 21 से 25 तथा 29 एमएलडी तक सिमट चुकी थी, जिसको लेकर शहर में पानी की राशनिंग की जा रही थी। निगम के पास पर्याप्त पानी न होने की वजह से लोगों को तीसरे दिन या कई मर्तबा तो पांच-पांच दिन के बाद पानी मिलना नसीब हो पा रहा था। जल संकट की स्थिति से जूझ रहे शहरवासियों को पानी की समस्या से निजात मिली है।

You might also like