एबीवीपी-एसएफआई ने झोंकी ताकत

ऊना। केंद्रीय छात्र संघ चुनावों के लिए ऊना कालेज में सियासत गरमा गई है। एबीवीपी व एसएफआई ने प्रचार-प्रसार तेज कर दिया है। प्रदेश स्तर के नेताओं को भी ऊना डिग्री कालेज में आने का न्योता दिया गया है। छात्र संगठन हरेक छात्र का हितैषी होने के दावे कर रहा है। एसएफआई ऊना कालेज में एबीवीपी पर समस्याओं की अनदेखी का आरोप लगा रही है। एबीवीपी को छात्र हित विरोधी ठहराया जा रहा है। दूसरी ओर एबीवीपी भी एसएफआई पर कालेज में शांत माहौल को भंग करने के आरोप लगा रही है। वहीं लड़कियों के साथ छेड़खानी करने व कालेज में तनाव की स्थिति के लिए भी एसएफ आई को जिम्मेदार ठहराया जा रहा है। इस बार अन्य छात्र संगठनों का सफाया हो जाएगा। एसएफआई के नेता पंकज शर्मा ने कहा कि एबीवीपी की तानाशाहीपूर्ण नीतियों के चलते वे हर हालात में ऊना में एसएफआई का विजयी परचम लहराएंगे। एबीवीपी के नेता विनय कुमार ने कहा कि छात्र हितैषी एबीवीपी संगठन में छात्रों को विश्वास है और एबीवीपी अपने पैनल को विजय श्री दिलाने के लिए छात्र समस्याओं को मुद्दा बनाकर चुनाव जीतेगी। उन्होंने कहा कि विद्यार्थी परिषद ही एक मात्र संगठन है, जो छात्र हित के लिए हमेशा प्रयासरत रहता है।

You might also like