एसडीएम ने मौके पर निपटाए 40 मामले

कार्यालय संवाददाता, घुमारवीं

उपमंडल की पंचायत बम्म में जनसमस्याओं की सुनवाई व उनके निपटारे के लिए खुले दरबार का आयोजन किया। इसकी अध्यक्षता उपमंडलाधिकारी (ना.) घुमारवीं राम कुमार ने की। खुले दरबार में लगभग 40 पंचायतों के सैकड़ों लोगों ने भाग लिया। खुले दरबार में अधिकांश मामले व्यक्तिगत आए और अधिकतर जनहित के मामले सामने रखे गए। मजे की बात यह रही कि इसमें वन विभाग का एकमात्र मामला सामने आया, जिसे मौके पर ही निपटा दिया गया। खुले दरबार की सुनवाई करते हुए एसडीएम घुमारवीं राम कुमार, तहसीलदार सिद्धार्थ आचार्य व नायब तहसीलदार यशवंत सिंह ने बताया कि कुल 111 मामले सामने आए, जिनमें से 40 मामलों का निपटारा मौके पर ही कर दिया गया, जबकि 71 मामले विचाराधीन विभिन्न विभागों को सौंपे गए। इस दौरान जनहित में 29 लोगों के जमीनी इंतकाल चढ़ाए गए। एक बयान हल्फिया दर्ज किया गया। इस दरबार में एक वसीयत भी की गई। लोगों के जरूरी और आवश्यकता अनुसार नौ प्रमाणपत्र भी बनाए गए। खुले दरबार में वन परिक्षेत्राधिकारी घुमारवीं रतन लाल शर्मा, एसएचओ भराड़ी रामदास कौशल, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के समाज कल्याण अधिकारी हरीश मिश्रा, सिंचाई एवं जनस्वास्थ्य विभाग के सहायक अभियंता सतीश शर्मा, लोक निर्माण विभाग के सहायक अभियंता एमएस चंदेल, विद्युत विभाग के सहायक अभियंता एसडी भारद्वाज, अतिरिक्त सहायक अभियंता विद्युत दौलत राम शर्मा, पंचायत प्रधान संजीव धीमान बम्म, पंचायत प्रधान मैहरी काथला कुलदीप सिंह उपस्थित थे।

You might also like