काम पर लौटे तकनीकी सहायक

शिमला। पंचायत तकनीकी सहायकों ने अपनी हड़ताल खत्म कर दी है। डेढ़ सप्ताह से कलम छोड़ो हड़ताल पर गए तकनीकी सहायक शनिवार से काम पर लौट आए हैं। यह निर्णय प्रदेश पंचायती राज मंत्री, पंचायती राज सचिव तथा पंचायती राज निदेशक से संयुक्त वार्ता के बाद लिया गया है। तकनीकी सहायक संघ के प्रदेशाध्यक्ष कुलभूषण शर्मा ने कहा कि पंचायती राज मंत्री ने शीघ्र ही कमीशन प्रथा समाप्त करके सम्मानजनक वेतन देने का भरोसा दिलाया है। प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि पंचायती राज मंत्री ने आश्वासन दिया है कि तब तक नई नियुक्तियां नहीं की जाएंगी, जब तक पूर्व में तैनात तकनीकी सहायकों की वेतन संबंधी समस्या हल नहीं हो जाती है। बैठक में पंचायती राज मंत्री ने तकनीकी सहायकों को हड़ताल खत्म करने की सलाह दी और काम पर लौटने को कहा। इससे पूर्व तकनीकी सहायक मार्च 2010 में भी एक सप्ताह से अधिक समय तक कलम छोड़ो हड़ताल पर गए थे। उस दौरान पंचायती राज सचिव ने तीन माह के भीतर तकनीकी सहायकों की मांगों को मानने का आश्वासन दिया था। मांगें पूरी न होने पर करीब डेढ़ सप्ताह पूर्व तकनीकी सहायकों ने फिर हड़ताल शुरू कर दी और बीते मंगलवार को पंचायत भवन से विधानसभा तक रैली निकाली। गौरतलब है कि पंचायत तकनीकी सहायक प्रदेश सरकार से उन्हें रेगुलर करने व सम्मानजनक वेतन देने की मांग कर रहे हैं। वर्तमान में इन्हें काम का करीब डेढ़ फीसदी हिस्सा ही दिया जा रहा है। एक हजार से अधिक तकनीकी सहायकों में अधिकांश आठ वर्ष का कार्यकाल पूरा कर चुके हैं और सरकार से नियमितीकरण की मांग कर रहे हैं। संघ के प्रदेशाध्यक्ष ने पंचायती राज मंत्री का आभार व्यक्त किया है और शीघ्र उनके हित में निर्णय लेने का आह्वान किया है।

You might also like