किसान मेले में 29 पंचायतों से पहंुचीं 350 गृहिणियां

 सुन्नी। महिलाओं की विकास में अहम भूमिका है और उन्हें अपनी आर्थिकी बढ़ाने के लिए सरकार द्वारा कार्यान्वित स्वरोजगार से जुड़ी योजनाओं को अपनाने के लिए आगे आना चाहिए। यह बात मंगलवार को बसंतपुर में आयोजित किसान मेले की अध्यक्षता करते हुए अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी शिमला एनके लट्ठ ने कही। इस मेले में बसंतपुर विकास खंड की 29 पंचायतों की करीब 350 महिलाओं ने भाग लिया। श्री लट्ठ ने कहा कि दूध गंगा परियोजना के अंतर्गत महिलाएं स्वयं सहायता समूह के माध्यम से अथवा निजी तौर पर डेयरी विकास करके अतिरिक्त आय सृजित कर सकती हैं।

उन्होंने पोली हाउस लगाने की बात भी कही, जिसके लिए 80 फीसदी अनुदान प्रदान किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि इंदिरा व अटल आवास योजना के अंतर्गत मकान बनाने के लिए अनुदान राशि को बढ़ाकर 48500 रुपए कर दिया गया है। उन्होंने केंचुआ खाद तैयार करने तथा जैविक खेती अपनाने के लिए महिलाओं का आह्वान किया। कृषि विश्वविद्यालय पालमपुर से आए विज्ञानिक सुरेंद्र ठाकुर और डा. अमर सिंह ने पौधों को लगने वाले विभिन्न रोगों व उपचार की विधि बताई, साथ ही उन्होंने मौसम के अनुसार पौधारोपण करने बारे भी विस्तारपूर्वक जानकारी दी। बागबानी एवं वानिकी विश्वविद्यालय नौणी से आए सब्जी विशेषज्ञ डा. राजेंद्र  शर्मा ने कहा कि सब्जी उत्पादन का कारोबार सुलभ और आयवर्द्धक है तथा महिलाएं रूटीन की खेतीबाड़ी के साथ सब्जी उत्पादन कर सकती हैं।

उन्होंने विभिन्न प्रकार की सब्जियों के उत्पादन पर चर्चा की, साथ ही लोगों की इस बारे  शंकाओं का समाधान भी किया। रोहड़ू से आए डा. डीडी  शर्मा ने फसलों के विविधिकरण की बात कही, ताकि उत्पादन गुणवत्तापूर्ण हो, साथ ही पैदावार भी बढ़े। तहसील कल्याण अधिकारी सुमित्रा चंदेल ने सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के माध्यम से निर्धनों, वृद्धों, असहायों व अपंग व्यक्तियों के लिए क्रियान्वित की जा रही विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं पर प्रकाश डाला। पंजाब नेशनल बैंक के मार्केटिंग प्रबंधक ने किसानों को बैंकों द्वारा प्रदान किए जाने वाले विभिन्न प्रकार के ऋणों की जानकारी दी। ईफको से आए क्षेत्रीय प्रबंधक डा. प्रदीप कुमार ने रासायनिक खादों की उपलब्धता एवं इनके प्रयोग की जानकारी दी। महासचिव पंचायती राज परिषद रती राम शांडिल ने विभिन्न विभागों से आए अधिकारियों का बहुमूल्य जानकारी किसानों को उपलब्ध करवाने के लिए आभार प्रकट किया।

You might also like