कुल्लू में सीआईडी, मंडी में खाकी का पहरा

स्टाफ रिपोर्टर, कुल्लू

छात्र संघ चुनावों में कुल्लू कालेज का चप्पा पुलिस छावनी में तबदील रहा। किसी भी प्रकार का कोई दंगा-फसाद न हो, इसके लिए पुलिस प्रशासन ने ही नहीं, बल्कि सीआईडी व आईबी ने भी पूरी ताकत छात्र संघ चुनावों में झोंक दी। ऐसा पहली बार हो रहा है कि सीआईडी व आईबी के पहरे में छात्र संघ के चुनाव हुए। जिला पुलिस अधीक्षक ने बताया कि कुल्लू कालेज में लगभग 60 पुलिस कर्मी तैनात रहे। छात्र संघ चुनावों में जहां कालेज में 22 पोलिंग बूथ स्थापित किए गए थे, वहीं हर पोलिंग बूथ पर दो-दो पुलिस कर्मी ड्यूटी दे रहे थे। इसके अलावा रिजर्व पुलिस कर्मी भी रखे गए थे, ताकि दंगे-फसाद की स्थिति से निपटा जा सके। यही नहीं, कुछ पुलिस कर्मी सिविल डे्रस में भी कालेज कैंपस में तैनात रहे। महिला पुलिस कर्मी जहां छात्राओं की शारीरिक जांच के बाद कालेज के भीतर जाने दे रही थीं, वहीं पुरुष पुलिस कर्मी छात्रों की पूरी तरह तलाशी ले रहे थे। इसके अलावा हर विद्यार्थी का पहचानपत्र चेक करके ही आगे भेजा जा रहा था।  कालेज के प्रिंसीपल एसी पे्रमी ने बताया कि इस बार कालेज कुल्लू में जहां कुल छात्र-छात्राओं की संख्या 4754 है, वहीं मत डालने का अधिकार 4325 छात्र-छात्राओं को ही मिला, क्योंकि 429 छात्र-छात्राएं ज्यादा उम्र के कारण चुनावों में अपना वोट नहीं दे पाए।

आनी कालेज में दस पुलिस कर्मी रहे तैनात

आनी कालेज में हो रहे छात्र संघ चुनावों में जहां कुल 397 विद्यार्थियों ने अपने मत का प्रयोग किया। उक्त कालेज में दस पुलिस कर्मी थाना आनी से तैनात रहे। डीएसपी आनी मनोहर लाल ने बताया कि वह खुद कालेज में रहे। इसके अलावा एसएचओ गुरवचन सिंह ने भी पूरी देख रेख की।

You might also like