क्रेडिट कार्ड व्यवस्था में सर्वाधिक जोखिम

मुंबई। भारतीय बैकों का मानना है कि अगला बिजनेस प्रोजेक्ट क्रेडिट कार्ड का व्यवसाय होगा और इसमें सर्वाधिक जोखिम  होगा।़ सलाहकारी संस्था डन एंड ब्रेडस्ट्रीट के एक सर्वेक्षण में कहा गया है कि तकरीबन 60 प्रतिशत बैंक अधिकारियों का मानना है कि क्रेडिट कार्ड का व्यवसाय सर्वाधिक जोखिम वाला है। बैकों का कहना है कि मौजूदा वित्त वर्ष में आवास, वाहन और कृषि ऋण पर जोर रहेगा। भारतीय रिजर्व बैंक के ग्रामीण क्षेत्रों में बैंकिंग सेवाएं उपलब्ध कराने पर जोर देने के लिए बैंक इन क्षेत्रों में शून्य जमा खाता खोलने वित्तीय प्रशिक्षण देने और वित्तीय सलाह उपलब्ध कराने पर जोर देंगे। नए बैकों का पंजीकरण करने की सरकार की पहल से 77 प्रतिशत बैकों ने सहमति जताई, जबकि 56 प्रतिशत का मानना है कि इससे सेवाओं का विस्तार होगा। ज्यादातर बैक विदेशों में अपना कारोबार फैलाने के इच्छुक हैं।

You might also like