खुंडीमराल पहुंचा श्रद्धालुओं का पहला जत्था

चंबा। मणिमहेश यात्रा के लिए भद्रवाह (जम्मू-कश्मीर) से आने वाले पैदल श्रद्धालुओं के पहले जत्थे ने शनिवार को हिमाचल की सीमा में प्रवेश किया। इस जत्थे में कुल 727 मणिमहेश यात्री हैं।  हर वर्ष भद्रवाह, डोडा आदि से मणिमहेश यात्रा के लिए आने वाले श्रद्धालु पैदल जम्मू-कश्मीर व हिमाचल के संवेदनशील क्षेत्रों से होकर आते हैं। इस जत्थे में बाकायदा सुरक्षा कर्मी भी साथ आते हैं। शनिवार को 727 यात्रियों का पहला जत्था हिमाचल प्रदेश के बार्डर खुंडीमराल पहुंच गया, जहां इनकी गहन जांच-पड़ताल की जाएगी तथा उसके बाद इन्हें आगे भेजा जाएगा। हिमाचल पुलिस तथा आईटीबीपी के जवान इन लोगों की जांच-पड़ताल कर रहे हैं। इनके साथ जम्मू-कश्मीर पुलिस के सुरक्षा कर्मी भी आए हैं, जिन्होंने जत्थे को प्रदेश पुलिस जवानों की सुरक्षा में दे दिया। अब प्रदेश सुरक्षा बल के जवानों की निगरानी में यह जत्था अपना आगे का सफर तय करेगा। खुंडीमराल जांच-पड़ताल के बाद जत्था लगेरा में रात्रि विश्राम करेगा। खुंडीमराल पहुंचे मणिमहेश यात्रियों में 311 पुरुष, 270 महिलाएं 146 बच्चे तथा उनके साथ 124 भेड़-बकरियां हैं। हिमाचल की सीमा पर प्रवेश करने पर फौरन जिला पुलिस व आईटीबीपी जवानों व अधिकारियों ने इनकी जांच-पड़ताल शुरू कर दी है। गौरतलब है कि जिन क्षेत्रों से पैदल श्रद्धालु आ रहे हैं, वह संवेदनशील क्षेत्र हैं।

You might also like