खौफ में गुजर रहीं रातें

विपिन सूद, डरोह

फस्टा के बाशिंदों की रातें खौफ में गुजर रही हैं। जब भी बारिश होती है, लोग सहम जाते हैं। दरअसल यहां हाई-वे पर बारिश के चलते ल्हासे गिर रहे हैं। ऐसे में सड़क का सारा पानी लोगों के घरों, गौशालाओं एवं खेतों में घुस रहा है। लोक निर्माण विभाग उपमंडल भवारना के अंतर्गत फस्टा गांव की सड़क पर भारी वर्षा से ल्हासे गिरने से लोग रात को सो नहीं पा रहे हैं। गौरतलब है कि लगभग 15 दिन पूर्व हुई भारी वर्षा के कारण पहाड़ी से ल्हासे गिरने से पहाड़ी व सड़क का पानी गौशालाओं, घरों व खेतों में घुस गया था। कड़ी मेहनत से गांव के लोगों ने पानी के बहाव को सड़क में जाकर बदला। लोक निर्माण विभाग के कर्मचारियों व जेसीबी द्वारा अस्थायी तौर पर राहत दी थी, लेकिन उसके उपरांत विभाग ने इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया। भारी वर्षा के कारण स्थानीय लोग पानी का बहाव पुनः गांव की तरफ होने के डर से सहमे हुए हैं। रात को सो नहीं रहे हैं। फस्टा गांव के चौधरी जगदीश चंद, वीना देवी, लज्या देवी, कर्म चंद, सुशील कटोच, पवन कुमार, राम सिंह चौधरी, योगमाया, कांता देवी, राकेश कुमार आदि लोगों ने विभाग से मांग की है कि जेसीबी लगाकर मोड़ को सीधा किया जाए। ल्हासे उठाकर पानी निकासी की उचित व्यवस्था की जाए। उपमंडल भवारना के एसडीओ अरविंद सूद ने इस कार्य को एक दिन के भीतर जेसीबी से पूरा करने का आश्वासन दिया।

You might also like