घरेलू गैस सिलेंडरों का दुरुपयोग रुकेगा

सिटी रिपोर्टर, शिमला

घरेलू गैस सिलेंडरों के दुरुपयोग के बढ़ते मामलों को देखते हुए खाद्य निरीक्षकों की जवाबदेही सुनिश्चित कर दी है। यही नहीं, अगर दुकानों के बाहर मूल्य सूची भी नहीं दर्शाई गई होगी, तो भी खाद्य निरीक्षकों की जवाबतलबी होगी। जिला खाद्य नियंत्रक ने सभी खाद्य निरीक्षकों को यह आदेश जारी कर किए हैं कि वे अपने कार्य में सतर्कता बरतें। खाद्य निरीक्षकों को कहा गया है कि वे अपने-अपने क्षेत्रों में दुकानदारों पर पकड़ बनाने के लिए अपनी शक्तियों को इस्तेमाल में लाएं। अगर वे ऐसा नहीं करते हैं या अपने कार्य के प्रति कोताही बरतते हैं, तो इसका खामियाजा उन्हें ही भुगतना पड़ेगा। यही नहीं निरीक्षकों को जिला में फर्जी राशन कार्ड का पता लगाकर उन्हें निरस्त करने को भी कहा गया है। जिला खाद्य नियंत्रक ने आदेश जारी किए हैं कि प्रत्येक निरीक्षक को एक महीने के अंदर संबंधित दो पंचायतों में बोगस राशनकार्ड की चेकिंग करनी होगी तथा इसकी रिपोर्ट जिला खाद्य नियंत्रक को सौंपनी होगी। जिला खाद्य नियंत्रक डा. जितेंद्र कुमार ने बताया कि जिला में जहां कहीं से भी घरेलू गैस सिलेंडर के दुरुपयोग के अधिक मामले या शिकायतें उन्हें मिलेंगी या जहां पर दुकानदारों द्वारा दुकानों के बाहर मूल्य सूची दर्शाई गई होगी, तो दोषियों के खिलाफ बाद में कार्रवाई की जाएगी।

You might also like