घाटी फिर थमी, झड़पों में 70 घायल

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर और घाटी के कुछ प्रमुख शहरों में अनिश्चितकालीन कर्फ्यू आज भी जारी रहा और इस दौरान संघर्ष की ताजा घटनाओं में करीब 20 लोग घायल हो गए।

शहर के सभी प्रमुख मार्गों को बंद कर दिया गया है। सुरक्षा बलों ने श्रीनगर-एयरपोर्ट सड़क को एक तरफ से बंद कर दिया है। नातीपुरा में एक सुरक्षाकर्मी ने कहा कि सभी कर्फ्यू पासों को रद्द कर दिया गया है और सरकार द्वारा जारी पहचान पत्रों को ही वैध माना गया है।

चानापुरा, नातीपुरा, आजादबस्ती और रामबाग बाला में कर्फ्यू पाबंदियों को कड़ाई से लागू किया गया है। हालांकि रामबाग से जहांगीर चौक तक की स्थिति पूरी तरह से अलग थी जहां हफ्तचिनार में कुछ दुकानें खुली देखी गई।

घाटी के जिहाब साहिब सौरा में लोग कर्फ्यू का उल्लंघन करते हुए सड़कों पर उतर आए। जब प्रदर्शनकारी मुख्य चौक की ओर बढ़ने लगे, तो सुरक्षा बलों ने उन्हें रोकने के लिए लाठीचार्ज किया। हालांकि इसका प्रदर्शनकारियों पर कोई असर नहीं हुआ। इसके बाद सुरक्षा बलों ने पथराव कर रही भीड़ को तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े।

सूत्रों ने बताया कि सुरक्षा बलों की गोलीबारी में तीन लोग घायल हो गए। पुलिस के एक प्रवक्ता ने बताया कि बंकर पर प्रदर्शनकारियों के लगातार पथराव के बाद सुरक्षा बलों ने आत्मरक्षा में गोलीबारी की थी। उन्होंने बताया कि घायल तीन लोगों को शेरे-ए-कश्मीर आयुर्विज्ञान संस्थान भर्ती कराया गया है। पथराव की घटना में कुछ सुरक्षाकर्मी भी घायल हो गए।

You might also like