छात्राओं को होस्टल न मिलने से पनपा गुस्सा

शिमला। एसएफआई विश्वविद्यालय इकाई ने नए कन्या छात्रावास व अन्य निर्माणाधीन भवनों के निर्माण में हो रही देरी की कड़े शब्दों में निंदा की है। एसएफआई के इकाई सचिव संजीव ने कहा कि जुलाई के दूसरे सप्ताह से कक्षाएं शुरू हो चुकी हैं, लेकिन अभी तक छात्राओं को होस्टल अलॉट नहीं किए गए हैं। इसके कारण उन्हें महंगे पीजी के लिए मजबूर होना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि बहुत सी छात्राएं होस्टल में गैस्ट के तौर पर ठहर रही हैं, जिन्हें वहां पर गेस्ट चार्जिज देने पड़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रशासन ने पहले 30 जून व उसके बाद 15 अगस्त तक निर्माण कार्य पूरा करने का दावा किया था, जो पूरी तरह खोखला साबित हुआ। इसके साथ-साथ मल्टी फैकल्टी बिल्डिंग का निर्माण पूरा नहीं हुआ है। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय में विजुअल आर्ट सोसायटी, माइक्रो, बायोलोजी, गणित विभाग के लिए पर्याप्त स्थान नहीं है व छह विभागों में शिक्षकों की कमी के कारण बंद होने की कगार पर है। उन्होंने कहा कि एसएफआई मांग करती है कि नए कन्या छात्रावास का निर्माण कार्य शीघ्र पूरा कर छात्राओं को कमरे अलॉट किए जाएं तथा डे स्कॉलर्स के लिए तीन नई बसें खरीदी जाएं।

You might also like