जोगिंद्रनगर में एबीवीपी हाशिए पर

हरीश बहल, जोगिंद्रनगर

राजकीय महाविद्यालय जोगिंद्रनगर की केंद्रीय छात्र परिषद के चुनावों में प्रधान पद पर एसएफआई व उपप्रधान, सचिव व सहसचिव पद पर एनएसयूआई ने कब्जा जमा कर एबीवीपी को हाशिए पर धकेल दिया है। गत वर्ष भी इस महाविद्यालय में चारों सीटों पर एनएसयूआई ने जीत दर्ज की थी, वहीं इस वर्ष एनएसयूआई ने तीन सीटें जीतीं। एसएफआई द्वारा छह वर्ष बाद एक बार पुनः प्रधान पद पर कब्जा जमाया गया। इससे पूर्व वर्ष 2004 में एसएफआई के वीरेंद्र सिंह ने प्रधान पद जीता था। मंडी जिला में जहां विभिन्न महाविद्यालयों में एबीवीपी का बेहतर प्रदर्शन रहा। वहीं जोगिंद्रनगर महाविद्यालय में प्रधान व उपप्रधान पद पर एबीवीपी तीसरे स्थान पर रही, जबकि सचिव व सहसचिव पद पर एबीवीपी के उम्मीदवार दूसरे स्थान पर रहते हुए भी भारी अंतर से हारे। कक्षा प्रतिनिधि के चुनाव में भी एनएसयूआई के सात, एसएफआई के पांच व एबीवीपी के दो प्रतिनिधि चुने जाने के दावे किए जा रहे हैं। बीए प्रथम वर्ष के लिए लाजपत सिंह, अभिषेक कुमार व वंदना ठाकुर, बीए द्वितीय वर्ष के लिए समीर, साहिल व नीतू देवी, बीए तृतीय वर्ष के लिए अनिल कुमार व भूप सिंह, बीकॉम प्रथम वर्ष के लिए गुरमीत भारद्वाज, बीकॉम द्वितीय वर्ष के लिए सुशील कुमार वर्मा व बीकॉम तृतीय वर्ष के लिए विनतू राणा, बीएससी प्रथम वर्ष के लिए राकेश कुमार, बीएससी द्वितीय वर्ष के लिए विक्रांत व बीएससी तृतीय वर्ष के लिए मधुबाला को कक्षा प्रतिनिधि चुना गया, जबकि एमए इंग्लिश के लिए कुमारी हेमलता को कक्षा प्रतिनिधि चुना गया।

You might also like