टेक्सटाइल पार्क को 70 एकड़ भूमि तय

मुकेश जसवाल, ऊना

हिमाचल का पहला और देश में भी टेक्सटाइल के क्षेत्र में तकनीक उपलब्ध करवाने वाला पहला टेक्सटाइल पार्क जिला ऊना के अंब उपमंडल के गांव ठठल में स्थापित किया जा रहा है।

इसके लिए केंद्र सरकार के टेक्सटाइल विभाग से अनुमति मिलने के साथ ही मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल व उद्योग मंत्री किशन कपूर ने भी इस प्रोजेक्ट को सिंगल विंडो के तहत स्वीकृति दी है। मुख्यमंत्री की पहल के चलते इस टैक्सटाइल पार्क को जिला ऊना में स्थापित किया जा रहा है और इसके लिए सभी औपचारिकताओं को पूर्ण करते हुए अंब उपमंडल के ठठल गांव में इस टेक्सटाइल पार्क के लिए 70 एकड़ भूमि चिन्हित की गई है और इस भूमि पर टेक्सटाइल पार्क को आधारभूत ढांचे को विकसित करने के लिए कंपनियों द्वारा 108 करोड़ रुपए का निवेश किया जा रहा है।

इस टेक्सटाइल पार्क का विधिवत शिलान्यास 28 अगस्त को मुख्यमंत्री द्वारा किया जाएगा। टेक्सटाइल पार्क में 12 विभिन्न टेक्सटाइल कंपनियां स्थापित की जाएंगी और जिनमें लगभग 2200 लोगों को रोजगार प्राप्त होगा। इस पार्क में कपड़ा उत्पादन से जुड़ी तकनीक से कच्चे माल का उत्पादन होगा, जो देश-विदेश में बिक्री के लिए भेजा जाएगा। इस पार्क में जिंदल मेडिकोट व जिंदल स्पेशियलिटी टेक्सटाइल दो कंपनियों की स्थापना प्रथम चरण में हो रही है, दोनों कंपनियों का निवेश 350 करोड़ के करीब होगा। जिंदल मेडिकोटल में बलीचकोटन, कोटन की गर्म पट्टियों का उत्पादन होगा। इस कंपनी का सारा माल यूरोप में बिक्री के लिए जाएगा, वहीं जिंदल स्पेशिसलिटी टेक्सटाइल कंपनी में फ्लैक्स शीट व यूएस आर्मी के लिए बनने वाली विशेष किस्म के कपड़े को तैयार किया जाएगा। कंपनी द्वारा इसके लिए कोरिया से मशीनरी मंगवाई जा रही है। टेक्सटाइल पार्क मंे स्थानीय युवकों को रोजगार के लिए प्राथमिकता दी जाएगी।

युवाओं को टेक्टसाइल उत्पादन का प्रशिक्षण देने के लिए एक माह के भीतर जिंदल मेडिकोट लिमिटेड द्वारा एक प्रशिक्षण संस्थान खोला जा रहा है, जिसमें युवाओं को रोजगार के लिए तैयार किया जाएगा। उद्योग मंत्री किशन कपूर ने कहा कि हिमाचल टेक्सटाइल पार्क को मंजूरी दी गई है। यह जिला ऊना में स्थापित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि विशेष उद्योग पर आधारित यह राज्य का पहला टेक्सटाइल पार्क है। जिलाधीश केआर भारती ने कहा कि हिमाचल टेक्सटाइल पार्क लिमिटेड की स्थापना जिला ऊना के ठठल गांव में की जा रही है। पार्क के लिए भूमि कंपनी द्वारा ले ली गई है।

You might also like