ठियोग में बस गिरी, 22 मरे

ठियोग। हिमाचल प्रदेश के शिमला जिला में छैल (ठियोग) के निकट निजी बस हादसे में 22 लोगों की मौत हो गई व 31 अन्य घायल हो गए। यह हादसा गुरुवार सायं चार बजे हुआ। निजी बस (एचपी 63-0379) शरौंथा से शिमला जा रही थी। बस में 53 लोग सवार थे। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक निजी बस सनाई में जब यात्रियों को उतार रही थी, तो एकाएक यह हादसा पेश आया, जिससे 20 की मौके पर मौत हो गई। हालांकि अभी तक दुर्घटना के वास्तविक कारणों की जानकारी नहीं मिल सकी है। अपुष्ट सूत्रों के मुताबिक निर्माणाधीन सड़क पर अत्यधिक कीचड़ के चलते बस फिसल गई और अनियंत्रित होकर 150 मीटर गहरी खाई में लुढ़क गई। मृतकों व घायलों में ज्यादातर लोग कोटखाई के शरौंथा इलाके से संबंधित बताए गए हैं। 33 घायलों में से 30 को शिमला के आईजीएमसी रैफर किया गया, जिनमें दो की मौत हो गई। खबर लिखे जाने तक शवों की शिनाख्त जारी थी। 17 शव प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र छैला और पांच नागरिक अस्पताल ठियोग में रखे गए थे, जिनमें से करीब 16 की पहचान की गई है। तीन अन्य घायलों को ठियोग अस्पताल में दाखिल किया गया है। निजी बस की दुर्घटना पर राज्यपाल उर्मिला सिंह और मुख्यमंत्री प्रो. प्रेम कुमार धूमल ने गहरा शोक व्यक्त करते हुए मृतकों के परिजनों के प्रति अपनी गहरी संवेदनाएं प्रकट की हैं। मुख्यमंत्री ने बचाव एवं राहत कार्यों की निगरानी के लिए बागबानी मंत्री नरेंद्र बरागटा को व्यक्तिगत तौर पर तत्काल दुर्घटना स्थल के लिए रवाना होने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने जिला प्रशासन को मृतकों के आश्रितों को तत्काल राहत प्रदान करने तथा घायलों के उपचार के लिए हर संभव सहायता उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए हैं। परिवहन मंत्री महेंद्र सिंह ने घटना की जांच के आदेश दिए हैं, वहीं केंद्रीय मंत्री वीरभद्र सिंह ने भी इस दुर्घटना पर गहरा दुख व्यक्त किया है।

मृतकों में ये शामिल

हीरा सिंह सुबोध पराला (ठियोग), उमादत्त शर्मा गांव पलाना क्यार (ठियोग), जिया लाल डिप्टी रेंजर घलया बीट (कोटखाई), ज्ञान चंद हलावग (कोटखाई), नीतू पुत्री देवेंद्र मड़ाइग (जुब्बल), बृजमोहन बनयोल (पुड़ग), नरेंद्र गांव जोणी (कोटखाई), पदम देप्ता खनेरी (कोटखाई), सुरेंद्र चौहान
पुड़क (कोटखाई), दीप राम बखराला (ठियोग), बिट्टू बरकोड़ी (कोटखाई), प्रमोद सुजानपुर (कांगड़ा), सुनील रतनाड़ी

घायलों के नाम

कुब्धा देवी गांव सोलाही (ठियोग), राकेश छैला (ठियोग), तारा चंद सालेहा (ठियोग), अमित (कोटखाई), मुकेश मुकडी कोटखाई, संतोष कुमार ( किन्नौरी सलोहा), अमर सिंह जटोली (कोटखाई), अमित चौधरी तसौरा नादौन (हमीरपुर), दीपक पडसाल कोटखाई, ओम प्रकाश जोठण, उत्तरकाशी, आशीष आरो भंडाई न्यूग्ल, ज्ञान सिंह जगदा (चौपाल), बबलू (ठियोग), विद्यासागर सरोग (ठियोग), सुकील शिंधला (राजगढ़), कैलाश परोधी जुब्बल, अलका बहादुर कोटखाई, नरेंद्र कोटखाई, अमर बहादुर राजगढ़ (सिरमौर), विनोद कुमार (सोलन), सुरेश भौरंग (नेपाल), देवराज करसोग, (मंडी) गंभीर रूप से घायल हैं और इनका आईजीएमसी में इलाज चल रहा है, जबकि दीपक, राजेश व संतोष ठियोग में उपचाराधीन हैं।

You might also like