डिपुओं में मिलेगा बढ़ा हुआ राशन

शिमला। प्रदेश में एपीएल और बीपीएल परिवार के कार्डधारकों को हर महीने बढ़ा हुआ राशन उपलब्ध होगा। बढ़ी हुई यह मात्रा बीपीएल परिवार के कार्डधारकों को 43 किलो बताई जा रही है। ऐसा इसलिए, क्योंकि केंद्र सरकार ने प्रदेश में ओपन मार्केट सेल स्कीम को अगले छह महीने तक जारी रखने का निर्णय लिया है। ओएमएस स्कीम के तहत प्रदेश में केंद्र द्वारा हर महीने 2949 मीट्रिक टन गंदम सप्लाई की जा रही है तथा 1448 मीट्रिक टन चावल की सप्लाई सुनिश्चित की गई है। इस प्रकार प्रदेश में एपीएल व बीपीएल कार्डधारक पीडीएस का राशन व ओएमएस का राशन अलग-अलग कीमत अदा करके प्राप्त कर सकते हैं। सरकार ने प्रदेश में दो लाख से अधिक बीपीएल तथा दस लाख से अधिक एपीएल कार्डधारकों को प्रतिकार्ड  50 व 43 किलो राशन देना सुनिश्चित कर दिया है।  अब यह लोगों पर निर्भर करता है कि सरकार की इन योजनाओं का वे लाभ उठाएं या नहीं। पीडीएस का राशन तो दोनों वर्गोें को पुरानी तय दरों पर दिया जाएगा, लेकिन ओएमएस का राशन इस योजना की तय दरों पर ही मिलेगा। इस प्रकार देखा जाए, तो बीपीएल कार्डधारकों को 20 किलो गंदम पीडीएस के तहत पांच रुपए 25 पैसे तथा 15 किलो चावल छह रुपए 85 पैसे की दर पर दिया जाएगा, लेकिन उन्हें ओएमएस के पांच किलो चावल 14 रुपए किलो की दर से तथा आटे की दस किलो की थैली 11 रुपए 20 पैसे की दर से दी जाएगी। इसी प्रकार एपीएल को भी पीडीएस का राशन उसी दर पर दिया जाएगा, लेकिन ओएमएस का राशन तय दरों पर मिलेगा। खाद्य एवं आपूर्ति मंत्री रमेश धवाला ने बताया कि प्रदेश में एपीएल व बीपीएल कार्डधारकों को सरकार महीने का 50 व 43 किलो राशन अलग-अलग योजना के तहत बाजार से कम कीमतों पर दे रही है। उन्होंेने बताया कि केंद्र सरकार ने ओएमएस की योजना को अगले छह महीने तक जारी रखने को स्वीकृति प्रदान कर दी है। जिसके तहतराशन कार्डधारकों को बाजार से कम कीमत पर आटा व चावल प्रदान किया जा रहा है। उन्होंेने बताया कि सरकार ने दोनों वर्गों के सभी राशन कार्डधारकों का बढ़ा हुआ राशन स्टोर कर दिया है।

You might also like