डीसी ने कांग्रेस नेता पर ठोंका केस

बिलासपुर। उपायुक्त बिलासपुर नंदिता गुप्ता ने एक कांग्रेसी नेता के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई है।  पुलिस प्रशासन मामले की पुष्टि नहीं कर रहा है। पुलिस सूत्रों के अनुसार पुलिस ने धारा 499, 500 तथा एससी-एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया है। एफआईआर नंबर 220 बताया जा रहा है। उधर, कांग्रेस नेता ने उपायुक्त के आरोपों को निराधार बताया है।  प्राप्त जानकारी के मुताबिक बिलासपुर उपायुक्त आईएएस अधिकारी नंदिता गुप्ता ने पुलिस को दी शिकायत में आरोप लगाया है कि गुरुवार को बिलासपुर में विस्थापितों के अवैध कब्जों को हटाने के लिए उचित नीति बनाने की मांग को लेकर उपायुक्त कार्यालय के प्रांगण में कुछ लोग प्रदर्शन कर रहे थे। इसी दौरान कांग्रेस नेता बंबर ठाकुर ने अपने भाषण में कुछ अनुचित शब्दों का प्रयोग किया। इसके उपरांत उक्त कांग्रेस नेता व सहयोगियों द्वारा राज्यपाल को भेजे गए ज्ञापन में अधिकारी के आईएएस सेवा में आने के लिए लगाए गए अनुसूचित जनजाति के प्रमाणपत्र में गड़बड़ के आरोप थे। कांग्रेस नेता ने ज्ञापन में मांग की थी कि इस प्रमाणपत्र की जांच की जाए। आईएएस अधिकारी नंदिता गुप्ता ने भाषण व ज्ञापन की प्रति के आधार पर पुलिस को शिकायत दी। पुलिस सूत्रों की मानें, तो शुक्रवार देर शाम बिलासपुर पुलिस ने आईएएस अधिकारी की शिकायत पर कांग्रेस नेता और अन्य पर एक मामला एससी-एसटी एक्ट के तहत और दूसरा मानहानि का दर्ज किया है। पुलिस अधीक्षक बिलासपुर कपिल शर्मा ने इस मामले में कुछ भी कहने से इनकार कर दिया है। आईएएस अधिकारी नंदिता गुप्ता का कहना है कि उन्होंने कांग्रेस नेता के खिलाफ लिखित रूप में शिकायत पुलिस को दे दी है। उन्होंने कहा कि पुलिस अधीक्षक बिलासपुर को अब यह देखना है कि वह इस मामले में क्या कार्रवाई अमल में ला सकते हैं। कांग्रेस नेता बंबर ठाकुर ने कहा कि अधिकारी ने उनके खिलाफ जो आरोप लगाए हैं, वे निराधार हैं।

You might also like