धर्मशाला में बांटी फर्जी डिग्रियां

मस्तराम डलैल, धर्मशाला

शहर के एक निजी शिक्षण संस्थान से फर्जी डिग्रियां देने पर प्रबंधक के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज किया गया है। सीजीएम कोर्ट धर्मशाला के आदेश पर सदर थाना धर्मशाला में संजय कुमार निवासी तीसा चंबा के खिलाफ मामला दर्ज किया है। निप्स संस्थान के अध्यक्ष ओपी शर्मा की शिकायत पर अदालत ने यह संज्ञान लिया है। खबर की पुष्टि करते हुए एसएसपी कांगड़ा डा. अतुल फुलझेले ने बताया कि मामला दर्ज कर आरोपी की तलाश की जा रही है। सूचना के अनुसार निप्स संस्थान के अध्यक्ष ओपी शर्मा ने अपनी शिकायत में कहा है कि तीसा निवासी संजय कुमार ने उसके साथ पार्टनरशिप करके उक्त संस्थान स्थापित किया। नवंबर, 2009 में  दोनों ने पार्टनरशिप के तहत निप्स संस्थान में एडमिशन देना शुरू की। इसके लिए इन दोनों के बीच एग्रीमेंट भी हुआ। ओपी शर्मा ने शिकायत में कहा है कि इसके बाद वह दिल्ली चले गए। इसका फायदा उठाते हुए संजय कुमार ने निप्स संस्थान के नाम पर किसी तीसरे व्यक्ति से पार्टनरशिप कर ली। इतना ही नहीं, उसने धर्मशाला में ही चुपचाप निप्स के नाम पर एक ओर समानांतर संस्थान खोल दिया। फर्जीबाड़े के तहत संजय ने संस्थान के नाम पर फ्रेंचाइजी बेचने शुरू कर दिए और मंडी, चंबा तथा ऊना सहित कई स्थानों पर इसकी शाखाएं खोल दीं। पुलिस सूत्रों का कहना है कि ओपी शर्मा जब दिल्ली से लौट कर आए, तो उन्हें इन तमाम सारे तथ्यों की जानकारी मिली। ओपी शर्मा ने संजय कुमार को कानूनी नोटिस देकर उसे अपने संस्थान से बाहर कर दिया। बावजूद इसके उसने चंबा जाकर फर्जीबाडे़ के तहत दोबारा निप्स के नाम पर शिक्षण संस्थान पंजीकृत करवा लिया। आरोप है कि  संजय कुमार ने कई छात्रों को फर्जी डिग्रियां और डिप्लोमे भी शैक्षणिक सत्र के बीच ही जारी कर दिए। उसने कई छात्रों को फर्जी डिग्रियां दे दीं। ओपी शर्मा ने उक्त शिकायत सीजीएम कोर्ट धर्मशाला में दर्ज की थी। इस पर अदालत ने सीआरपीसी की धारा 156 (3) के तहत धर्मशाला सदर थाना को आपराधिक मामला दर्ज करने के निर्देश जारी किए हैं।

You might also like