नाल्टी में बताए स्वाइन फ्लू से बचाव के तरीके

कार्यालय संवाददाता, घुमारवीं

राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला नाल्टी में सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय भारत सरकार द्वारा विद्यार्थियों को स्वाइन फ्लू के बारे में जानकारी प्रदान की गई।

गुरुवार को आयोजित शिविर में पाठशाला के लगभग 450 बच्चों ने लक्षण, बचाव व परामर्श उपचार के गुर सीखे। पाठशाला प्रधानाचार्य डा. प्रकाश चंद शर्मा की अध्यक्षता में क्षेत्रीय प्रसारण अधिकारी हमीरपुर द्वारा टीवी स्क्रीन के माध्यम से विद्यार्थियों व शिक्षकों को बताया कि स्वाइन फ्लू एक भयंकर एवं जानलेवा बीमारी है। इसका अगर समय रहते इलाज नहीं किया गया, तो व्यक्ति की जान भी जा सकती है।

अधिकारी सुनील कुमार ने कहा कि यह बीमारी पूरे विश्व में जहर की तरह फैल चुकी है, परंतु इस बीमारी का इलाज संभव है। सरकारी अस्पतालों में इसकी दवाई मुफ्त उपलब्ध है। इसके लक्षणों में
जुकाम अधिक दिन रहना, बुखार बार-बार तेज आना, खांसी में खून आना तथा लगातार छींकें आते रहना इसके प्रारंभिक लक्षण हैं। बहरहाल गुरुवार को आयोजित शिविर में पाठशाला के लगभग 450 बच्चों ने लक्षण, बचाव व परामर्श उपचार के गुर सीखे।

You might also like