नेरी पुल-सनौरा सड़क पर मलबा

निजी संवाददाता, राजगढ़

राजगढ़ के अंतर्गत आने वाले नेरीपुल-सनौरा मार्ग के शलैच कैंची के समीप एक बार पुनः बंद हो जाने से इस मार्ग पर वाहनों की आवाजाही ठप रही तथा आने-जाने वाले मुसाफिरों को परेशानी का सामना करना पड़ा। शिमला से आ रहे सैकड़ों ट्रक, छोटी मालवाहक गाडि़यां व अन्य वाहनों को करीब 38 किलोमीटर लंबा सफर तय कर वाया हाब्बन-राजगढ़-सोलन मार्ग से जाना पड़ रहा है। शलैच नामक स्थान पर ऊपर से पूरा का पूरा पहाड़ धंस रहा है। आलम यह है कि लोक निर्माण विभाग के कर्मचारी यदि इस मार्ग को यहां थोड़ी देर के लिए चालू करते हैं, तो यह पुनः बंद हो जाता है। इस कारण सैकड़ों वाहनों की कतारें दोनों ओर लग जाती हैं। गौर करने वाली बात यह है कि शिमला मंडियों से अधिकतर सेब इसी मार्ग से देश की विभिन्न मंडियों में जाता है तथा इस कारण सेब उत्पादक भी परेशान हो गए हैं। उधर, मामले की पुष्टि करते हुए लोक निर्माण विभाग के अधिशाषी अभियंता पीसी धरोच ने बताया कि मौका पर पहाड़ करीब 500 मीटर पीछे से धंस रहा है तथा मजदूर सड़क साफ कर रहे हैं।

You might also like