पंजैहरा में नशे का विरोध

स्टाफ रिपोर्टर, नालागढ़

सूचना एवं जनसंपर्क विभाग द्वारा चलाए जा रहे नशा निवारण अभियान के तहत शुक्रवार को तीसरे दिन नालागढ़ उपमंडल की पंजैहरा पंचायत में नशा निवारण जागरूकता कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस कार्यशाला में पंजैहरा पंचायत के तीन महिला मंडलों की लगभग 60 महिलाओं ने भाग लिया। इस अवसर पर उपस्थित महिलाओं को संबोधित करते हुए सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के राजेंद्र जसवाल ने कहा कि समाज में फैल रही नशे जैसी बुराई को समाप्त करने के लिए महिलाएं अपना महत्त्वपूर्ण योगदान दे सकती हैं। उन्होंने कहा कि नशे की आदत को छुड़ाने के लिए पूरे समाज को मिल-जुलकर प्रयास करना होगा, ताकि स्वस्थ समाज का निर्माण हो सके।  उन्होंने कहा कि आज की युवा पीढ़ी गुटखा, पान, कुबेर इत्यादि का सेवन करती है, जो कि समाज के लिए खतरा है और उन्होंने महिलाओं से युवाओं से इस बुराई को छुड़ाने को भी कहा।  उन्होंने यह भी कहा कि यदि पूरी पंचायत नशामुक्त बन जाए, तो यह पूरे समाज के लिए एक आदर्श स्थापित होगा। इस मौके पर सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के सुरेश वर्मा ने विभाग द्वारा चलाए जा रहे नशा निवारण अभियान के बारे में जानकारी दी। इसके अतिरिक्त अनुसूचित जाति एवं जनजाति निगम तथा पंडित दीन दयाल उपाध्याय योजना के बारे में बताया। इस अवसर पर पंजैहरा पंचायत के प्रधान रामकुमार ने महिलाओं से समाज में फैल रही नशे जैसी बुराई को समाप्त करने का आग्रह किया। उन्होंने महिला मंडलों को नशे के उन्मूलन में अपना महत्त्वपूर्ण योगदान  देने को भी कहा।

You might also like