प्रबंधन पर बरसे विद्युत कर्मचारी

शिमला प्रदेश बिजली बोर्ड के प्रबंधकों की कार्यप्रणाली को लेकर कर्मचारी यूनियन ने कड़े तेवर दिखाए हैं। बोर्ड के कर्मचारियों के साथ हो रहे लगातार हादसों पर यूनियन ने प्रशासन को कटघरे में खड़ा किया है। यूनियन का कहना है कि अधिकारी ढील बरत रहे हैं और कर्मचारियों को सुरक्षा संबंधी उपकरण मुहैया नहीं करवाए जा रहे। राज्य विद्युत परिषद तकनीकी कर्मचारी महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष देवराज शर्मा और प्रेस सचिव रणवीर सिंह चौहान ने यहां एक बयान में कहा कि बोर्ड के सब-स्टेशनों पर सामान की कमी है। न तो बिजली के मीटर हैं न ही पीवीसी वायर, ब्लैकटेप, फ्यूज वायर, किटकैट आदि सामान भी नहीं मिल पा रहा। इस वजह से रोजाना कोई न कोई हादसा हो रहा है।

You might also like