बकरा चुराने के प्रयास में ऊना थाने पहुंचे निहंग

ऊना। बकरे  को चुराने का प्रयास करने  पर निहंगों को ऊना थाने में  माफी मांग जान छुड़ानी पड़ी। यह रोचक मामला ऊना से करीब छह किलोमीटर दूर बरनोह गांव में मंगलवार को पेश आया। जब ऊना-हमीरपुर सड़क मार्ग पर एक बकरे को सड़क से गुजर रहे कुछ निहंगों ने गाड़ी में डालकर मौके से रफूचक्कर होने का प्रयास किया। ग्रामीणों ने उन्हें दबोच लिया। गांववासियों ने उक्त बकरा सिद्ध चानो मंदिर में पूजा करने के बाद छोड़ा था। दरअसल सड़क के किन्नारे बकरे को अकेला देख निहंगों का दिल डोल गया। उन्होंने बकरे को उठाकर गाड़ी में रख लिया और आगे निकल लिए। स्थानीय ग्रामीणों ने उन्हें देख लिया और उनका पीछा कर कुछ दूरी पर उन्हें गाडी सहित दबोच लिया और मौके पर दोनों पक्षों में कहा सुनी हुई। मौके पर गांव के प्रधान कमल सहित दो दर्जन से अधिक लोग एकत्रित हो गए और मामले की जानकारी सदर थाना को दी गई। थाना प्रभारी आरआर ठाकुर ने पुलिस कर्मियों को मौका पर भेजकर कार्रवाई करने को कहा। मौके पर पहुंचे पुलिस कर्मी दोनों पक्षों के साथ बकरे को भी लेकर थाने में आए। ग्रामीणों ने कहा कि बकरा सिद्ध चानो मंदिर में पूजा के बाद छोड़ा गया है और इसे चुराकर भागने से गांव में नुकसान हो सकता है। एसएचओ ने दोनों पक्षों की बात सुनने के बाद दोनों से समझौता करवाया और निहंगों ने बकरे को पुनः बरनोह में छोड़ दिया।

You might also like