भगवा सैलाब के आगे सब साफ

अश्वनी पंडित , बिलासपुर

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने छात्र संघ चुनावों में जिला के कालेजों में पिछले वर्ष के मुकाबले इस बार सीटें जीतने में बढ़त हासिल की है। एनएसयूआई इस बार भी पांच का आंकड़ा पार नहीं कर पाई, जबकि बीएसए ने बिलासपुर कालेज में इस साल भी जीत का क्रम जारी रखते हुए चारों सीटों पर कब्जा जमा लिया है। उधर,  झंडूता कालेज में  झंडूता छात्र संगठन और घुमारवीं कालेज में एचएसयू हाशिए से बाहर हो गए। बिलासपुर महाविद्यालयों में वर्ष 2009 के मुकाबले इस बार अभाविप सबसे ज्यादा मजबूत संगठन के रूप में उभरा है। झंडूता कालेज में पिछले वर्ष झंडूता छात्र संगठन ने जीत हासिल की थी, लेकिन इस बार एबीवीपी ने चारों पद झटके हैं। घुमारवीं कालेज में एबीवीपी ने इस बार भी चारों सीटें हासिल कर ली हैं। जुखाला कालेज में एनएसयूआई के खाते तीन और एबीवीपी के खाते एक सीट आई थी, वहीं इस बार एबीवीपी ने चारों सीटों पर कब्जा जमाया। नयना देवी में चल रहे रुलदू राम डिग्री कालेज में इस बार एबीवीपी को एक भी सीट नहीं मिल पाई है।

चारों सीटों पर एनएसयूआई ने कब्जा कर लिया है। शक्ति संस्कृत कालेज में एबीवीपी ने महज अध्यक्ष पद को खोते हुए तीनों बाकी सीटें जीतीं। आंकड़े बताते हैं कि पिछले साल जहां एबीवीपी ने जिला के छह कालेजों में 11 सीटें जीती थीं, वहीं इस बार यह आंकड़ा पंद्रह तक पहुंच गया है।  एनएसयूआई को इस बार भी पांच ही सीटों से संतोष करना पड़ा है।

You might also like