मंडी में विद्यार्थी परिषद की धाक

अजय कुमार, मंडी

मंडी के वल्लभ कालेज में सातवीं मर्तबा भगवा लहरा गया है। एबीवीपी ने छात्र संघ चुनावों में एक बार फिर क्लीन स्वीप करते हुए चारों सीटों पर जीत दर्ज कर ली है। एबीवीपी ने एनएसयूआई को झटका देते हुए पद्धर कालेज में अध्यक्ष, महासचिव और सचिव के पद कब्जा लिए हैं, जबकि एनएसयूआई को उपाध्यक्ष की ही कुर्सी मिल पाई है। धर्मपुर कालेज में एबीवीपी का पूरा पैनल विजयी घोषित किया गया है। सुंदरनगर के संस्कृत कालेज में एनएसयूआई का पूरा पैनल जीत गया है, जबकि सुंदरनगर के दूसरे कालेज में एबीवीपी का कब्जा हुआ है। सरकाघाट में एबीवीपी के खाते में अध्यक्ष का पद आया है, जबकि एसएफआई ने अन्य तीन पद जीत लिए हैं। एसएफआई ने जोगिंद्रनगर कालेज में भी अपनी उपस्थिति दर्ज करवाते हुए अध्यक्षी कब्जा ली है। यहां एनएसयूआई को उपाध्यक्ष, महासचिव और सचिव के पदों से ही संतोष करना पड़ा है। एबीवीपी के हाथ यहां खाली रहे हैं। वल्लभ कालेज में एबीवीपी ने अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, महासचिव और सचिव के पदों पर जीत हासिल की है। पद्धर के कालेज में बड़ा उलटफेर करते हुए एनएसयूआई को झटका दे दिया है। यहां पर अध्यक्ष, महासचिव और सचिव के पद पर एबीवीपी ने बाजी मारी है। राजीव गांधी राजकीय महाविद्यालय जोगिंद्रनगर में प्रधान पद पर एसएफआई का प्रत्याशी विजयी रहा, जबकि अन्य तीनों सीटों पर एनएसयूआई ने कब्जा जमाया। एसएफआई के परविंद्र कुमार ने 584 मत सीट जीती। उपप्रधान पद के लिए एनएसयूआई के अर्जुन सिंह ने 584 मत प्राप्त कर विजय प्राप्त की। सचिव पद के लिए एनएसयूआई के अनिल कुमार ने 657 मत प्राप्त कर जीत हासिल की। सहसचिव पद के लिए एनएसयूआई के सुधीर सिंह राव ने 616 मत प्राप्त कर जीत दर्ज की।

You might also like