मां का प्यार, जिंदा हो गया बच्चा!

मां के स्पर्श में एक जादुई ताकत होती है। यह बात एक बार फिर साबित हुई आस्ट्रेलिया में। यहां एक मां अपने मृत नवजात शिशु को दो घंटे छाती से लगाए रही। उसी ममता का असर था कि उस मां ने अपने बच्चे में जान फूंक दी। इसी साल मार्च में प्रीमैच्योर और कम वजन का पैदा हुए जेमी के जीवित रहने की संभावना को डाक्टरों ने नकार दिया था। जेमी की साथ ही पैदा हुई उसकी जुड़वां बहन एमिली आसानी से जी गई, लेकिन जेमी को मृत घोषित कर दिया गया। इसके बाद डाक्टरों ने जेमी को मां केट और पिता डेविड को सौंप दिया ताकि वे जेमी को अंतिम विदाई दे सकें, लेकिन होनी को तो कुछ और ही मंजूर था। केट और डेविड ने नम आंखों से जेमी को सीने से लगा लिया। डेविड ने एकबारगी मान लिया कि अब जेमी नहीं जिएगा, लेकिन केट यह मानने को तैयार नहीं थी। वह दो घंटे तक जेमी को सीने से चिमटाए रही। इसके बाद मां ने उसे अपना स्तनपान कराया, फिर तो जैसे चमत्कार ही हो गया और बच्चा पुनः सांस लेने लगा। यह घटना मार्च माह की है जब तीन घंटे की प्रसव पीड़ा के बाद कैट ने इस शिशु को जन्म दिया था। कैट ने अपने जादुई स्पर्श के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि किस तरह मां का प्यार एक बीमार बच्चे के लिए संजीवनी का कार्य कर सकता है। आस्ट्रेलिया में इसे कंगारू स्पर्श के नाम से जाना जाता है। स्पर्श की इस प्रक्रिया में मां अपने बच्चे को कंगारू के बच्चे की तरह अपने शरीर की चमड़ी से चिपका कर रखती है। आमतौर पर अपरिपक्व बच्चों को जन्म के बाद सघन चिकित्सा कक्ष में रखा जाता है, लेकिन कैट को उसका बच्चा इसलिए सौंप दिया गया था क्योंकि वह मर चुका था। कैट ने बताया कि यह मेरे जीवन का सबसे खराब क्षण था मैंने जेमी को उस कंबल से बाहर निकाला, जिसमें उसे लपेट कर रखा गया था। वह बहुत ही शिथिल था तथा ऐसा लग रहा था कि उसके नन्हे-नन्हे हाथ और पैर शरीर से बाहर निकल आएंगे। मैंने अपने गाउन में से जगह बनाते हुए उसे अपने शरीर से चिपका लिया। इसके बाद तो जैसे वह धीरे-धीरे सांस लेने लगा। मैंने सोचा, हे भगवान यह क्या हो रहा है? कुछ ही देर बाद उसने अपनी आंखें भी खोल दीं। यह तो एक चमत्कार हो गया था। पहले जब उसके शरीर में कोई हरकत नहीं हो रही थी, तब हम उससे यह कह रहे थे कि उसका नाम जेमी है तथा उसकी एक बहन है। हमने उससे यह भी कहा कि उसे लेकर हमने जिंदगी में क्या-क्या सपने संजो रखे हैं।

You might also like