युवा ओलंपिक में भारत को एक और सफलता

सिंगापुर महिला पहलवान पूजा ढांढा की रजत सफलता के बाद पहलवान कादियान सत्यव्रत ने पहले युवा ओलंपिक के कुश्ती के 100 किग्रा. फ्रीस्टाइल मुकाबले में मंगलवार को कांस्य पदक जीत लिया। बैडमिंटन खिलाड़ी एचएस प्रणय और टेनिस स्टार यूकी भांबरी ने अपनी सफलता का सिलसिला जारी रखते हुए पदक उम्मीदों को बरकरार रखा है।  कादियान ने युवा ओलंपिक के तीसरे दिन 100 किग्रा. फ्रीस्टाइल वर्ग में जार्जिया के पेट्रियाशविली जेनो को 3-1 से हराकर कांस्य पदक जीता और देश को दूसरा पदक दिलाया। कादियान ग्रुप बी में दूसरे स्थान पर रहे थे। वह क्यूबा के कोनथेडी रआनो से 0-3 से हारे थे, लेकिन उन्होंने कनाडा के धोनी परमवीर को 3-0 और दक्षिण अफ्रीका के शटल आंद्रीस को 3-1 से हराया था। कादियान ने ग्रुप ‘ए’ में दूसरे स्थान पर रहे जेनो को हराकर कांस्य पदक जीता। उधर, रूसी खिलाडि़यों ने दूसरे दिन तीन स्वर्ण झटकते हुए देश को कुल पांच स्वर्ण के साथ पदक तालिका में शीर्ष पर पहुंचा दिया, जबकि पहले दिन तीन स्वर्ण के साथ धमाकेदार शुरुआत करने वाला चीन अपनी झोली में केवल एक और स्वर्ण डाल सका। चीन अब चार स्वर्ण के साथ पदक तालिका में दूसरे स्थान पर खिसक गया है, जबकि अमरीका चार स्वर्ण जीतकर उसकी बराबरी में मौजूद है। अब तक कुल 30 देशों का पदकों के मामले में खाता खुल चुका है।

You might also like