यौन उत्पीड़न प्रकरण में मांगी निष्पक्ष जांच

दिव्य हिमाचल ब्यूरो, बिलासपुर

हिमाचल अराजपत्रित कर्मचारी महासंघ्ा ने मुख्यमंत्री व स्वास्थ्य मंत्री से जिला अस्पताल में एक नर्स द्वारा शल्य चिकित्सक पर लगाए गए यौन उत्पीड़न करने के आरोप को लेकर पुलिस को निष्पक्ष जांच करवाए जाने के आदेश दिए जाने को कहा है, ताकि दोषी को इस जघन्य अपराध के लिए दंड मिल सके। गुरुवार को महासंघ के अध्यक्ष राम सिंह, उपाध्यक्ष अमरनाथ खुराना और प्रेस सचिव प्रवीण ठाकुर ने कहा कि बिना किसी जांच के चिकित्सा विभाग के कुछ अधिकारी और स्टाफ सदस्य तथाकथित बैठक कर किसी दोषी को नहीं बचा सकते। अच्छा होता कि बैठक का आयोजन करके निष्पक्ष जांच करवाए जाने की मांग उठाई होती,लेकिन उल्ट दबाव बनाकर अस्पताल में हो रहे जघन्य अपराधों को दबाने का प्रयास किया जा
रहा है।

महासंघ नेताओं ने कहा कि जब तक आरोपी डाक्टर को सस्पेंड या फिर स्थानांतरित कर अन्यत्र नहीं भेजा जाता तब तक किसी निष्पक्ष जांच की आशा करना बिलकुल अनुचित है। महासंघ की मांग है कि बैठक करने वाले डाक्टरों व स्टाफ का दो-दो घंटे का वेतन काटा जाए। सरकार से एक ही जगह कई सालों से कार्यरत डाक्टरों का स्थानांतरण अन्यत्र किए जाने की मांग की गई है।

You might also like