रझौण में मां दुर्गा के गहने उड़ाए

निजी संवाददाता, उरला

उपमंडल की ग्राम पंचायत चुक्कू के रझौण गांव स्थित कन्या दुर्गा माता मंदिर में गुरुवार रात को चोरों ने माता के मंदिर का ताला तोड़कर आभूषणों सहित नकदी पर से हाथ साफ कर दिया। चोरों ने मंदिर के  भीतर रखे अन्य साजो-सामान के दो ट्रंक उठाकर मंदिर के पिछवाड़े में तोड़े और उनमें रखे चांदी के हार और अन्य सामान पर भी हाथ साफ कर लिया। मंदिर में रखे गए दानपात्र तोड़कर उसे मंदिर के गेट पर फेंक दिया। जानकारी के अनुसार चोर गांव के समीप कन्या दुर्गा माता के रथ में लगे सात चांदी के मोहरे और रथ के समीप रखे चार चांदी के मोहरों को चुरा ले गए। रथ के भीतर रखी दो मुख्य मूर्तियां चोरों के हाथ नहीं लग सकीं। चोर माता के रथ का विशाल चांदी का हार भी उड़ा ले गए। चोरों ने माता के साजो-सामान के दो ट्रंक मंदिर के पिछवाड़े में तोड़े हैं, जिनमें 16 सिक्कों वाला चांदी का हार और नकदी थी। मंदिर में रखे दानपात्र को भी गेट पर तोड़ डाला। मंदिर पुजारी के मुताबिक इसमें पिछले छह महीनों का चढ़ावा था। चोरों ने गुरुवार देर रात को वारदात को अंजाम दिया। मंदिर पुजारी चतर सिंह पुत्र दौलत राम ने बताया कि मंदिर के सामने 100 मीटर की दूरी पर उनका घर है। शुक्रवार सुबह जब वह उठे, तो उन्होंने मंदिर का दरवाजा घर से खुला देखा। इस दौरान वह मंदिर पहुंचे, तो चोरी की घटना को देख उनके पांव तले जमीन खिसक गई। मंदिर पुजारी ने वारदात की सूचना ग्रामीणों और पंचायत प्रधान मनसा राम को दी तथा बाद में पुलिस थाना पद्धर को सूचना दी। एएसआई राजेंद्र कुमार की अगवाई में पद्धर पुलिस मामले की जांच को रझौण मंदिर पहुंची। मंदिर का ताला तोड़ने में चोरों ने गैंती का प्रयोग किया है। टूटे हुए तालों और गैंती को पुलिस ने कब्जे में ले लिया है। रथ में लगी अष्टधातु की मूर्ति को चोरों ने नहीं उठाया। थाना प्रभारी श्रेष्ठा ठाकुर ने बताया कि पुलिस मामले की छानबीन में जुटी हुई है। पुलिस अधीक्षक सोनल अग्निहोत्री ने कहा कि चोरी की इस वारदात का शीघ्र ही पटाक्षेप किया जाएगा।

You might also like