रनों की मशीन हैं सचिन तेंदुलकर

भारत-श्रीलंका के बीच खेले गए दूसरे टेस्ट मैच में टेस्ट क्रिकेट में अपना 48वां टेस्ट जमाकर सचिन तेंदुलकर ने एकबार फिर साबित कर दिया है कि अभी भी उन में अच्छा खासा दम है। वह आज भी रन बनाने की एक जोरदार मशीन हैं। भारतीय टीम में कई खिलाड़ी आए और चले गए लेकिन सचिन आज भी टीम में जमे हुए हैं। जिस तरह की बल्लेबाजी वह आज से 20 वर्ष पूर्व करते थे, आज भी उनका वही विस्फोटक अंदाज बरकरार है। उन्होंने सफलता के लगभग सभी मुकाम हासिल कर लिए हैं। उनके प्रशंसकों को उन जैसे खिलाड़ी से केवल यही एक आशा है कि वह विश्व कप तक फिट रहें और देश के लिए एक बार फिर से विश्व कप जीत
कर लाएं।

डा.राजन मल्होत्रा, पालमपुर

You might also like