राजेंद्र काचरू की गवाही आज

दिव्य हिमाचल ब्यूरो, धर्मशाला

अमन काचरू हत्या मामले में शुक्रवार को दोनों अहम गवाहों डा. डीपी स्वामी और इएनटी स्पेशलिस्ट हरजीत पाल के बयान दर्ज हुए। शनिवार को इस केस के महत्त्वपूर्ण गवाह मानें जा रहे मृतक के पिता राजेंद्र सत्या काचरू अदालत में पेश होंगे।

 मृतक छात्र का पोस्टमार्टम करने वाले डाक्टर डीपी स्वामी तथा अमन काचरू का उपचार करने वाले इएनटी स्पेशलिस्ट डा. हरजीत पाल शुक्रवार को बतौर गवाह अदालत में पेश हुए। मामले की सुनवाई करते हुए न्यायाधीश पुरेंद्र वैद्य ने अमन  काचरू के पिता राजेंद्र सत्या काचरू की गवाही को अहम मानकर, उन्हें शनिवार को अदालत में पेश होेने के आदेश जारी किए हैं।

गत 18 अगस्त को फास्ट ट्रैक कोर्ट ने उक्त मामले से जुड़े तीनों की गवाही को अहम मानते हुए, इन्हें अपने बयान दर्ज करने के लिए बुलाने का फैसला दिया था। न्यायाधीश पुरेंद्र वैद्य की अदालत ने उस फैसले के अनुसार 27-28 अगस्त को दो  डाक्टरों और अमन काचरू के पिता राजेंद्र सत्या काचरू की फास्ट ट्रैक कोर्ट में गवाही देने का फैसला सुनाया था।

 शुक्रवार को फास्ट ट्रैक कोर्ट ने अमन काचरू हत्या केस की सुनवाई के बाद उक्त फैसला दिया। अभियोजन पक्ष ने कोर्ट में पांच अलग-अलग याचिकाएं दायर कर इस मामले से जुड़े छह लोगों को गवाह बनाने की अर्जी दी थी। इसके तहत अभियोजन पक्ष ने अमन काचरू के पिता की गवाही को अहम बताया था। बहरहाल शनिवार को इस केस के महत्त्वपूर्ण गवाह मानें जा रहे मृतक के पिता राजेंद्र सत्या काचरू अदालत में पेश होंगे।

You might also like