रामपुर में सरदारी एसएफआई को

दिव्य हिमाचल ब्यूरो, रामपुर बुशहर

रामपुर के बल्लभ पंत महाविद्यालय में इस बार आम छात्रों ने अखंड जनादेश दिया। इस मर्तबा छात्रों ने एसएफआई को छात्र संघ का मुखिया बनाया। अध्यक्ष पद के लिए एसएफआई के विक्रम कायथ ने 592 मत प्राप्त कर विजय हासिल की। दूसरे स्थान पर एनएसयूआई के हन्नी ने 550 मत प्राप्त किए, जबकि अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के योगराज को 478 मतों से संतोष करना पड़ा। उपाध्यक्ष पद पर इस बार एनएसयूआई ने बाजी मारी। एनएसयूआई की मोनिका गुप्ता ने 629 मत प्राप्त किए, जबकि एबीवीपी के संजय को 502 और एनएसयूआई के ओम प्रकाश को 479 मत मिले। महासचिव पद भी एनएसयूआई के पाले में रहा, जहां एनएसयूआई के मनीष को 717 मत पड़े, वहीं विद्यार्थी परिषद की साधना को 372 मत और एसएफआई की सुभद्रा को 523 मत मिले, वहीं संयुक्त सचिव पद पर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के नितेश श्याम 628 मत लेकर विजयी घोषित किए गए, जबकि एनएसयूआई यहां तीसरे नंबर पर रही। मोनिका को 407 व एसएफआई की राखी को 574 मत पड़े। यह पहली बार है, जब तीनों ही संठन के उम्मीदवारों ने पैनल में जगह बनाई है। सबसे तगड़ा  झटका अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद को लगा है। सभी ने परिणाम घोषित होने के बाद रामपुर में रैली निकाली। कालेज के प्राचार्य एमएस नेगी ने सभी को शांतिपूर्ण चुनाव करवाने के लिए बधाई दी।

You might also like