लेह पीडि़तों को 125 करोड़

एजेंसियां, लेह। प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने लेह में बादल फटने की विनाशकारी घटना के शिकार हुए लोगों के लिए 125 करोड़ रुपए के राहत पैकेज की मंगलवार को घोषणा की। साथ ही उन्होंने कहा कि इस प्राकृतिक आपदा में जो मकान ध्वस्त हो गए, उन सभी का अगले अढ़ाई महीने में पुनर्निर्माण किया जाएगा। राहत और पुनर्वास कार्य का जायजा लेने के लिए एकदिवसीय दौरे पर आए श्री मनमोहन ने कहा कि यह राहत पैकेज प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से प्रदान किया जाएगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि बादल फटने की घटना में जो मकान ध्वस्त हो गए हैं, उन सभी का अगले अढ़ाई माह में पुनर्निर्माण करवा दिया जाएगा और इसके लिए धन की कमी नहीं आने दी जाएगी। मनमोहन ने कहा कि अस्तपालों, स्कूलों, और सड़कों का पुनर्निर्माण किया जाएगा तथा बिजली कनेक्शनों को फिर से जोड़ा जाएगा और सभी पुनर्वास कार्य अगले अढ़ाई माह के अंदर सर्दी का मौसम आने से पहले पूरे किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि इस आपदा के दौरान कई जानें गईं, जो अपूर्णीय क्षति है, लेकिन केंद्र और जम्मू-कश्मीर सरकारें पीडि़त परिवारों की मदद के लिए हरसंभव उपाय करेंगी। प्रधानमंत्री ने कहा कि सर्दी आने से पहले मैं आपके पास फिर आकर और आपके लिए जो घर बनाए, उन्हें देखूंगा। उन्होंने राहत और पुनर्वास के लिए उठाए जा रहे विभिन्न कदमों पर चर्चा करने के लिए मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला और राज्य के अधिकारियों के साथ एक बैठक भी की। यहां बादल फटने के बाद राहत एवं बचाव कार्यों का जायजा लेने प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह अपनी कैबिनेट के वरिष्ठ मंत्रियों के साथ केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री गुलाम नबी आजाद, फारूक अब्दुल्ला और जम्मू-कश्मीर कांग्रेस समिति के प्रमुख सैफुद्दीन सोज़ यहां पहुंचे थे।

लेह में बादल फटने के बाद का दृश्‍य
You might also like