वल्लभ के 2000 छात्रों ने नहीं डाले वोट

नरेंद्र शर्मा, मंडी

कालेजों में बढ़ रही गुंडागर्दी मतदान पर भी भारी पड़ने लगी है, जिससे नकारात्मक वोटों की संख्या में अपेक्षा से ज्यादा बढ़ोतरी होने लगी है। इसका असर वल्लभ कालेज पर सबसे ज्यादा पड़ा है। आलम यह है कि जिला के सबसे बडे़ कालेज वल्लभ डिग्री कालेज में लगभग 2000 छात्र-छात्राओं ने नकारात्मकता दिखाई है। चुनावी परिणामोंं के घोषित नतीजों के बाद यह खुलासा हुआ है। यह भी कम चौंकाने वाला नहीं है कि इस बार वल्लभ डिग्री कालेज में लड़कियों की मतदान प्रतिशतता लड़कों से कम रही है। राजनीतिक विशेषज्ञों का कहना है कि जो गुंडागर्दी का माहौल कालेजों में बन रहा है, उसी का असर है कि छात्र-छात्राएं चुनावों से अब दूरी बनाने लगे हैं। आंकड़ों पर गौर फरमाया जाए तो मंडी कालेज में वोटरों की संख्या 4528 थी, जिनमें 2477 छात्र-छात्राओं ने मतदान किया है। इनमें 1324 लड़कों का मतदान था, जबकि 1103 लड़कियां ही मतों का प्रयोग कर सकी हैं। कुल 54 फीसदी मतदान रिकार्ड किया गया है। हालांकि एबीवीपी मंडी कालेज में सातवीं बार जीत कर इतिहास रचने में कामयाब रही हों, लेकिन वह भी कम अंतर से ही जीत सकी है।

You might also like