हिमुडा के खिलाफ पार्षद ने खोला मोर्चा

दिव्य हिमाचल ब्यूरो, मंडी

मंडी बस अड्डे के निर्माण पर विवादों में आया हिमुडा फिर लपेटे में आ गया है। नगर परिषद के पार्षद ने सीधे तौर पर नागार्जुन चट्टान से उत्पन्न हुए खतरे के लिए हिमुडा द्वारा किए जा रहे सड़क निर्माण को दोषी ठहराया है। हिमुडा ने सड़क बनाई और अब लोग रात को सो नहीं पा रहे हैं। टारना मोहल्ला में निर्माणाधीन सड़क से जो खतरा उत्पन्न हो रहा है, उसके बारे में हिमुडा एवं वन विभाग के अधिकारियों को पत्र लिखकर उस पर अविलंब कार्रवाई अमल में लाए जाने का आग्रह किया गया है। पार्षद तोष कुमार ने बताया कि सड़क निर्माण की मिट्टी व पत्थर वहीं पर हिमुडा ने रख दिए हैं, जो कि वर्षा के भारी बहाव के कारण नीचे की ओर बह गए हैं, जिससे वहां स्थानीय लोगों का भारी नुकसान हुआ है। यही नहीं नागार्जुन चट्टान के गिरने का भी खतरा बना हुआ है। उन्होंने कहा कि स्वयं उन्होंने सारा मौका किया है तथा स्थिति से गंभीर चिंतित हैं। इस बारे हिमुडा के अधिकारियों से व्यक्तिगत रूप से आग्रह किया गया है कि उन्होंने जो मिट्टी, पत्थर वहां  सड़क पर इकट्ठा करके रखे हुए हैं, उन्हें तत्काल हटाया जाए तथा सड़क पर आई दरारों को भरा जाए।

You might also like