आटा-पानी साथ लेकर आएंगे ओबामा

सुशील राजेश, नई दिल्ली

भारत प्रवास के दौरान अमरीकी राष्ट्रपति बराक हुसैन ओबामा अपने ही देश के आटे की रोटी खाएंगे और वाशिंगटन से लाया पानी पिएंगे। वह फोन और वाहन भी अमरीकी ही इस्तेमाल करेंगे। यहां तक कि ‘मौर्य’ पंचतारा होटल के जिस सूएट में ओबामा ठहरेंगे, उसे अमरीकी राष्ट्रपति बिल क्लिंटन ने ही तुड़वाकर अमरीकी राशि से बनवाया था। ओबामा संसद के सत्र को ही संबोधित करेंगे। हालांकि कुछ तकनीकी कारणों से उस कार्यक्रम का नामकरण बदल दिया गया है। राष्ट्रपति के बजाय उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी ओबामा का स्वागत करेंगे। संसद भवन में सेंट्रल हाल पर ताला जड़ दिया गया है। अमरीकी एजेंसियों में सीआईए, एफबीआई के बड़े अफसरों के अलावा दो अमरीकी मंत्री विलियन और राबर्ट ब्लैक, सेंट्रल हाल  और उसके आसपास की व्यवस्था का कई बार मुआयना कर चुके हैं। संसद परिसर में अमरीकी माहौल छाया है। सेंट्रल हाल वाले गलियारे में पंछी भी पंख नहीं फड़फड़ा सकता। संसद भवन के इस अति विशेष कक्ष में ही ओबामा सांसदों को संबोधित करेंगे। अभी तक यह तय नहीं है  कि वामदलों के सांसद उस संबोधन के दौरान उपस्थित होंगे अथवा नहीं। सूत्रों ने स्पष्ट किया चूंकि नौ नवंबर से ही संसद का शीतकालीन सत्र शुरू होना है, लिहाजा तकनीकी तौर पर संसद सत्र तभी से माना जाएगा, जब ओबामा आठ नवंबर को संसद में संबोधित करेंगे, तो उसे ‘सांसदों का संबोधन’ नामकरण दिया गया है। दीर्घा में मीडिया भी उन क्षणों को देख-सुन सकेगा। इस अतिविशिष्ट प्रवास के दौरान अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा किसी भी भारतीय सेवा का इस्तेमाल नहीं करना चाहते। सूत्रों के अनुसार ओबामा के लिए आटा और पानी वाहक विमानों के जरिए अमरीका से ही लाए जा रहे हैं। ओबामा फोन भी अपना ही इस्तेमाल करेंगे उनका निजी संचार तंत्र स्थापित किया जा रहा है। उसके लिए अमरीका का ही एक सेटेलाइट अमरीकी राष्ट्रपति की सेवा में समर्पित रहेगा। सूत्रों के मुताबिक ओबामा की यात्रा से पहले ही 70 कारें और अन्य वाहन दिल्ली आ चुके हैं। अमरीकी हेलिकाप्टर और वाहक विमान भी लाए जा रहे हैं। सुरक्षा बंदोबस्त इतने नाजुक माने गए हैं कि ओबामा के लिए किसी गैर अमरीकी वस्तु पर भरोसा ही नहीं किया जा रहा है। पूर्व राष्ट्रपतियों बिल क्लिंटन और जार्ज बुश की तरह ओबामा और उनका प्रतिनिधिमंडल भी ‘मौर्य पंचतारा होटल में ही ठहरेगा।’ होटल का एक हिस्सा भी अमरीकी करार दिया जाता है। अपने राष्ट्रपति काल के दौरान जब क्लिंटन भारत प्रवास पर आए थे, तो उन्होंने ‘मौर्य’ होटल के एक सूएट को तुड़वाकर अमरीकी खर्च पर अपनी तरह से बनवाया था। ओबामा भी इसी सूएट में ठहरेंगे।

You might also like