आत्मनिर्भर बनने का प्रशिक्षण

सोलन एमएसएमई संस्थान चंबाघाट द्वारा कसौली में अनुसूचित जाति  की महिलाओं के लिए प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया गया। छह सप्ताह तक चले इस प्रशिक्षिण शिविर के दौरान महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाए जाने के लिए प्रशिक्षण प्रदान किया गया। शिविर के समापन अवसर पर एमएसएमई संस्थान के निदेशक आरपी वैश्य ने कहा कि  वर्तमान में महिलाएं प्रत्येक क्षेत्र में आगे आ रही हैं। उन्होंने महिलाओं से अपील की है कि अधिक से अधिक महिलाएं इस प्रकार के शिविर में भाग लेने के लिए आएं, ताकि भविष्य में स्वरोजगार शुरू कर सकें। इस अवसर पर महिला मंडल कसौली की अध्यक्ष सरोज बाला ने कहा कि  महिलाओं को आत्मनिर्भर बनना चाहिए। वर्तमान में महिलाएं भी परिवार की आर्थिक स्थिति को सुधारने के लिए पुरुषों को योगदान दे रही हैं, इसलिए किसी भी प्रकार के स्वरोजगार से पीछे नहीं हटना चाहिए।

You might also like