ऊंचा होगा लघु-मझौले उद्यमों का सूचकांक

एजेंसियां, नई दिल्ली

भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) द्वारा रविवार को किए गए एक सर्वेक्षण में कहा गया है कि मौजूदा वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में लघु एवं मझौले उद्यमों का विश्वास सूचकांक (बीसीआई) ऊंचाई पर रहेगा। मौजूदा तिमाही में बीसीआई 0-100 के अनुमान पैमाने पर 67 के बिंदु पर है और अति अनुकूल स्थिति से आगे बढ़ रहा है। सीआईआई की दूसरी तिमाही के सर्वेक्षण में कहा गया है कि अनुमान में अनुकूल और प्रतिकूल बदलावों के बीच 50 का बिंदु विभाजक रेखा है। इस महत्त्वपूर्ण क्षेत्र के अनुमान में पिछली तिमाही में 1.4 बिंदु का महत्त्वपूर्ण सुधार हुआ है। सीआईआई के महानिदेशक चंद्रजीत बनर्जी ने कहा कि वैश्विक आर्थिक मंदी के झटके से किसी क्षेत्र के उबरने का यह एक सकारात्मक संकेत है, और इसमें रोजगार की अपार संभावना है।

सर्वेक्षण में कहा गया है कि इस क्षेत्र के प्रदर्शन में उछाल निर्यात के बदले घरेलू मांग के कारण अधिक आया है। ज्ञात हो कि लघु एवं मध्यम उद्यमों के लिए निर्यात की संभावना में पिछली तिमाही में काफी गिरावट आई है। सर्वेक्षण में कहा गया है कि अमरीकी डालर के मुकाबले भारतीय रुपए की कीमत में आई तेजी ने लघु एवं मझौले उद्यमों के निर्यात के लिए और संकट खड़ा कर दिया है।

You might also like