चांद का दिनभर इंतजार

दिव्य हिमाचल ब्यूरो, ऊना

जीवनसाथी की लंबी आयु के लिए  रखे सुहागिनों द्वारा रखे जाने वाले करवाचौथ व्रत मंगलवार को महिलाओं ने बड़े उत्साह के साथ मनाया। व्रत के दिन सुबह तारों की ठंडी छाव में सूरज उगने से पूर्व ही महिलाओं ने पूजा-अर्चना व अन्य रस्मों के साथ व्रत की शुरुआत की। इसके बाद दिन के समय मंदिरों में भी पूजा-अर्चना के उपरांत सुहागिनों ने एक-दूसरे को व्रत की सामग्री बांटने का क्रम शुरू किया, जो सारा दिन चलता रहा। सायं काल में महिलाओं ने करवाचौथ व्रत की कथा सुनी व देर सायं चांद के दीदार के साथ ही व्रत को संपन्न किया गया। इससे पहले करवाचौथ व्रत के उपलक्ष्य में ऊना शहर में खूब रौनक रही। व्रत की पूर्व संध्या पर महिलाओं ने बाजारों में खूब खरीददारी की, वहीं मेहंदी व शृंगार के लिए भी महिलाओं की लंबी कतारें लगी रहीं। ऊना के मुख्य बाजार, जीवन मार्केट, तहसील बाजार के अलावा अन्य प्रमुख बाजारों में मनियारी की दुकानों में चूडि़यां डलवाने के लिए महिलाओं की भीड़ उमड़ी, वहीं ब्यूटी पार्लरों व मेहंदी लगाने वालों के पास भी लाइनें लगी रहीं। पति की लंबी आयु के लिए करवाचौथ का पवित्र व्रत रखने के लिए महिलाओं ने यहां शृंगार का पूरा ध्यान रखा, वहीं पूजा-अर्चना के लिए भी सामान एकत्रित करती रहीं। इस दौरान करवे, फल, मेवे के अलावा मिष्ठान की भी जोरदार बिक्री हुई। वहीं चूडि़यां की भी  जमकर खरीदारी की गई। वैश्विक मंदी के बीच करवाचौथ के व्रत ने व्यापारियों के चेहरों पर रौनक लौटा दी।

You might also like