टैक्सी प्रथा को बंद करे प्रदेश सरकार

स्टाफ रिपोर्टर, शिमला

राजकीय एवं अर्द्ध राजकीय चालक-परिचालक संघ ने राज्य सरकार से विभागों में टैक्सी प्रथा को बंद करने की मांग की है। रविवार को संघ की शिमला में आयोजित राज्य स्तरीय बैठक में सभी प्रतिनिधियों ने इस मुद्दे का समर्थन किया। बैठक में निर्णय लिया गया कि कर्मचारी इस मुद्दे को लेकर सोमवार को मुख्यमंत्री को ज्ञापन सौंपेगे। राज्य अध्यक्ष शांति स्वरूप की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में प्रदेश के सभी जिला अध्यक्षों के अलावा अन्य पदाधिकारियों ने भी भाग लिया। शांति स्वरूप ने बताया कि सरकार ने विभागों में जो टैक्सी प्रथा शुरू की है, उसका वह विरोध करते हैं। संघ का तर्क है कि सरकार जिन टैक्सियों को किराए पर ले रही है उनका अधिक खर्चा वहन करना पड़ रहा है। संघ ने आरोप जड़ा कि अधिकारी इन टैक्सियों का दुरुपयोग कर रहे हैं। बैठक में टैक्सी प्रथा को बंद करने के अलावा चालकों व परिचालकों के लिए नियमितीकरण में वन टाइम रिलेक्सेशन देने की मांग को भी पुरजोर तरीके से उठाया गया है।

You might also like