परिसंघ अध्यक्ष महासचिव दें इस्तीफा

दिव्य हिमाचल ब्यूरो, शिमला

प्रदेश पदोन्नत स्कूल प्राध्यापक संघ के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष जीवन शर्मा ने परिसंघ के प्रदेशाध्यक्ष व महासचिव की टीजीटी कैडर के हितों के साथ खिलवाड़ करने का आरोप लगाते हुए उनके त्यागपत्र की मांग की है। उन्होंने कहा कि आज टीजीटी आर्ट्स व टीजीटी विज्ञान की लड़ाई स्कूल प्राध्यापकों की पदोन्नति के लिए उच्च न्यायालय तक पहुंच चुकी है। कुछ स्वार्थी तत्त्व द्वारा पदोन्नत स्कूल प्राध्यापकों को मुख्याध्यापक बनने से रोका जा रहा है। गौरतलब है कि संघ के प्रदेशाध्यक्ष व महासचिव ने टीजीटी कैडर के तीन घटक दलों को मिलाकर गत वर्ष टीजीटी परिसंघ का गठन किया था, लेकिन इस परिसंघ के प्रदेशाध्यक्ष ने अपने निजी स्वार्थों के कारण टीजीटी कैडर को तहस-नहस कर रखा है। अध्यापक संगठनों के कुछ प्रतिनिधि अपने निजी हितों के कारण टीजीटी कैडर को पदोन्नत स्कूल प्राध्यापकों के साथ लड़वा रहे हैं, जो चिंता का विषय है। इस पर टीजीटी कैडर के पदाधिकारियों को चिंतन करना होगा। मुख्याध्यापकों के रिक्त पड़े 200 पदों को जल्द भरा जाए।

You might also like