मिल्कफेड का घी-मक्खन हुआ महंगा

नरेंद्र शर्मा, मंडी

दिवाली से पूर्व मिल्कफेड ने प्रदेशवासियों को महंगे उत्पादों का तोहफा प्रदान किया है। मिल्कफेड का प्रदेश में अब देशी घी और मक्खन महंगा हो गया है। सूत्रों के अनुसार मिल्कफेड ने देसी घी के दामों में 15 रुपए प्रति किलोग्राम बढ़ोतरी की है, जबकि मक्खन के दामों में प्रतिकिलो 10 रुपए का इजाफा हुआ है। देशी घी के दाम अब बढ़कर 260 से 275 रुपए प्रति किलोग्राम हो गए हैं, जबकि मक्खन 210 से बढ़कर 220 रुपए प्रति किलो महंगा हो गया है। ये आदेश तत्काल प्रभाव से लागू हो गए हैं। मिल्कफेड ने दूध के दाम नहीं बढ़ाए हैं। मिल्कफेड का घी सर्वोत्तम माना जाता है। इसकी लागत भी प्रदेश में सबसे ज्यादा होती है। इसी कारण मिल्कफेड ने दामों में बढ़ोतरी की है। इस बढ़ोतरी को लेकर कई उपभोक्ताओं ने कड़ी नाराजगी भी जाहिर की है। हैरानी यह है कि मिल्कफेड ने लेबर चार्ज नहीं बढ़ाया है। दूध के दाम नहीं बढ़ाए हैं, फिर भी घी महंगा करना लोगों को रास नहीं आया है। दूसरी कंपनियों के दाम अब भी स्थिर बने हुए हैं। दिवाली के सीजन में यह बढ़ोतरी लोगों की जेबें और ढीली कर जाएगी। इसकी पुष्टि मिल्कफेड के चेयरमैन मोहन जोशी ने की है। उनका कहना है कि मिल्कफेड ने दूसरी कंपनियों के मुकाबले घी और मक्खन के दाम कम रखे हैं। लागत बढ़ने के कारण यह बढ़ोतरी करना जरूरी था। उन्होंने कहा कि यह बढ़ोतरी मामूली है। उन्होंने कहा कि घी में गुणवत्ता बरकरार है।

You might also like