सैलानियों ने पीटा दुकानदार

शिमला —  पंजाबी पर्यटक लक्कड़ बाजार में दुकान व्यवसायी को पीटते रहे और पुलिस सामने खड़ी होकर तमाशा देखती रही। दुकान व्यवसायी को पीटकर व पुलिस को डरा धमका कर पर्यटक मौके से चलते बने, लेकिन पुलिस के जवान टस से मस नहीं हुए। कुछ ऐसा ही हंगामा लक्कड़ बाजार में दिन दहाड़े पेश आया। हुआ यूं कि पंजाब से आए परिवार सहित सात-आठ पर्यटक एक दुकान में जाकर शॉल खरीदने गए। शॉल की कीमत को लेकर दुकान व्यवसायी व पर्यटकों में बहसबाजी शुरू हो गई। पर्यटक शॉल की कीमत को कम करने के लिए कह रहे थे। उनका कहना था कि शॉल के दोगुने दाम लगाए जा रहे हैं। दुकान व्यवसायी कीमत कम करने को तैयार नहीं था। इसी बात को लेकर पंजाबी पर्यटकों ने दुकान व्यवसायी के साथ बहसबाजी शुरू कर दी। पर्यटकों के साथ आई महिला पर्यटकों ने दुकान व्यवसायी पर बदतमीजी का आरोप लगाना शुरू कर दिया। इनके साथ आए पुरुष पर्यटक महिलाओं की बातों में आकर दुकान व्यवसायी पर टूट पड़े। पर्यटकों ने जमकर दुकान व्यवसायी की धुनाई की। इस दौरान आसपास लोगों का जमघट लग गया, लेकिन किसी ने बीच-बचाव करने की जहमत नहीं दिखाई। दुकान व्यवसायी को पीटने के बाद पर्यटकों के साथ आई महिलाओं ने बीच सड़क में खड़ा होकर हंगामा करना शुरू कर दिया। महिलाओं का आरोप था कि दुकान व्यवसायी ने उनके साथ बदतमीजी की है। यह सब नजारा पुलिस के तीन जवान भी देख रहे थे। काफी देर तक पर्यटक हंगामा करते रहे, यहां तक की पुलिस को भी यह धमकाया जा रहा था कि दुकान व्यवसायी का पक्ष लिया जा रहा है, जबकि दुकान व्यवसायी ने उनके साथ आई महिलाओं से बदतमीजी की है। पुलिस इस मामले में कार्रवाई करने के बजाए मूकदर्शक बनती रही। जब पर्यटक मौके से चलते बने तो लोगों के कहने पर पुलिस के जवान पर्यटकों को ढूंढने के लिए निकले, लेकिन तब तक पर्यटक लक्कड़ बाजार से जा चुके थे। पुलिस ने इस मामले को रफा-दफा करना ही बेहतर समझा। लक्कड़ बाजार चौकी पुलिस का यह कहना है कि पर्यटकों व दुकान व्यवसायी ने थोड़ी बहसबाजी हुई है। इसके अलावा कुछ भी नहीं हुआ है।

You might also like