टैक्स हेल्पलाइन

बुजुर्गों के लिए एडवांस टैक्स भरना जरूरी नहीं

मैंने अभी अपने इन्कम टैक्स की रिटर्न इस साल यानी साल 2014-15 के लिए दाखिल नहीं की है। पिछले दिनों पढ़ा था कि इस बार की रिटर्न में सारे बैंक अकाउंट और विदेश जाने की पूरी जानकारी इन्कम टैक्स रिटर्न में देगी पड़ेगी?

सुमन शर्मा, बिलासपुर

जी हां, पहले सीबीडीटी (यानी सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्स) ने इस साल के रिटर्न फार्म नंबर एक और दो में कई नई जानकारियां देने को कहा था। यह जानकारी थी कि आपकी विदेश में अगर कोई संपत्तियां हैं तो वे कब ली गई हैं। उसको खरीदने के लिए पैसा कहां से आया है, कितने बैंक खाते थे, क्या नए या पुराने बैंक खाते बंद किए थे, किस-किस देश में बैंक खाता है, उस बैंक का नाम, अकाउंट नंबर, खाता अपना है या फिर ज्वाइंट  है। विदेश यात्रा कहां-कहां की गई थी और उसके लिए सोर्स ऑफ इन्कम क्या था, लेकिन बाद में सरकार ने यह कहा है कि अब वह नया सरल फार्म लाएगी, इसलिए अब आपको नए सरल फार्म का इंतजार कर लेना चाहिए।

मैं एक सीनियर सिटीजन हूं, और जानना चाहता हूं कि इन्कम टैक्स एक्ट में सीनियर सिटीजन कोभी क्या एडवांस टैक्स देना जरूरी है। मेरी जो इन्कम है, वह पेंशन और किराए से ही आती है।

श्याम सुंदर अग्रवाल, पंचकूला

जिस भी व्यक्ति की उम्र 60 साल से अधिक है,।उसे  एडवांस टैक्स देने की जरूरत नहीं है। इन्कम टैक्स की धारा 207 के तहत 60 साल के व्यक्ति, जो कि सितंबर, दिसंबर और मार्च में  एडवांस टैक्स जमा करवाते हैं, को इससे छूट प्रदान की गई है।इसके बावजूद यहां पर ध्यान रखें कि अगर सीनियर सिटीजन किसी व्यापार या प्रोफेशनल के रूप में काम कर रहा है, तो फिर यह छूट उस व्यक्ति को नहीं मिलेगी।

मैं यह जानना चाहता हूं कि टैक्स ऑडिट करवाने के लिए एनुअल टैक्स एक्ट में क्या सीमा रखी गई है?

अमर देव, कांगड़ा

किसी भी वित्तीय वर्ष में अगर किसी भी व्यक्ति की टोटल ग्रॉस रिसिप्ट एक करोड़ से ऊपर है तो  उसे इन्कम टैक्स की धारा- 44 के तहत अपने अकाउंट को किसी भी सीए से ऑडिट करवाना पड़ता है। और जो लोग प्रोफेशनल हैं, जैसे वकील, डाक्टर आदि अगर उनकी ग्रॉस रिसिप्ट 25 लाख रुपए से ज्यादा है, तो फिर उन्हें भी टैक्स ऑडिट करवाना जरूरी है।

 

You might also like