Divya Himachal Logo Feb 24th, 2017

एचएमटी बचाओ समिति का हल्ला

पंजाब हरियाणा हाईकोर्ट में मांगों को लेकर याचिका दायर 

पिंजौर— एचएमटी कर्मचारियों ने विजय बंसल, संरक्षक एचएमटी बचाओ संघर्ष समिति के मार्गदर्शन में पंजाब हरियाणा हाई कोर्ट में याचिका 27483, 2016 रामबीर एंड अदर्स,  यूनियन ऑफ  इंडिया एंड अदर्स दायर की। याचिकाकर्ताओं ने एचएमटी ट्रैक्टर प्लांट को बंद करने के विरुद्ध, जिन कर्मचारियों की नौकरी शेष है, उन्हें किसी यूनिट आदि से संयोजित करना, वीआरएस स्कीम का विशेष लाभ व 2014 से अब तक के वेतन आदि मांगों को लेकर याचिका दायर की है। याचिकाकर्त्ओं की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता अमित जानझी पेश हुए, एचएमटी कंपनी की ओर से आनंद छिब्बर, भारत सरकार की ओर से चेतन मित्तल,  असिस्टेंट सॉलिसिटर पेश हुए। याचिकर्त्ताओं की ओर से पेश हुए वरिष्ठ अधिवक्ता अमित जानझी की लंबी बहस करने के बाद पंजाब हरियाणा हाई कोर्ट ने केंद्र सरकार से एचएमटी पिंजौर ट्रैक्टर प्लांट को बंद करने के बारे में सात फरवरी 2017 को जवाब तलब किया है। विजय बंसल, संरक्षक एचएमटी बचाओ संघर्ष समिति ने कहा कि एचएमटी कर्मचारियों के साथ समिति का समर्थन है। एचएमटी क्षेत्र की जीवनरेखा है इसे बंद नहीं होने देंगे। भाजपा विधायिका व सांसद की निंदा की। हर संभव प्रयास करके भाजपा की जनविरोधी नीतियों पर विजय प्राप्त करेंगे। एचएमटी कर्मचारियों के हकों के साथ कुठाराघात नहीं होने देंगे। इससे पूर्व भी 29 मार्च 2016 को एचएमटी परिसर से पदयात्रा करके विधानसभा तक हजारों की संख्या में विरोध व्यक्त किया गया था। एचएमटी बचाओ संघर्ष समिति के संरक्षक विजय बंसल ने कहा कि 2009 लोकसभा चुनावों के दौरान अंबाला रैली में नरेंद्र मोदी ने संबोधित करते हुए कहा था कि मैंने गुजरात की बंद पड़ी जर्जर व बीमार औद्योगिक यूनिटों को चला दिया यह तो कुछ नहीं है, भारत में भाजपा सरकार आते ही एचएमटी की ओर विशेष ध्यान देकर इसके हालातों को ठीक किया जाएगा।

January 12th, 2017

 
 

पोल

क्या हिमाचल में बस अड्डों के नाम बदले जाने चाहिएं?

View Results

Loading ... Loading ...
 
Lingual Support by India Fascinates