himachal pradesh news, himachal pradesh top stories, himachal pradesh tourism

कैश न मिलने पर किया हंगामा

नगरोटा सूरियां —  नोटबंदी को बुधवार को 62 दिन हो गए, लेकिन नगरोटा सूरियां के भारतीय स्टेट बैंक पंजाब नेशनल बैंकों में लोगों को पैसा न मिलने के कारण भारी रोष है। लोगों का कहना है कि बैंक दस बजे खुलते हैं और 12 बजे कैश खत्म हो जाता है। बुधवार को भारतीय स्टेट बैंक में लोगों को पैसा न मिलने के कारण खूब हंगामा किया गया। लोगों ने प्रधानमंत्री के नोटबंदी के इस निर्णय पर भारी रोष व्यक्त किया। लोगों ने कहा कि उन्हें केवल चार से पांच हजार रुपए मिल रहा है। आज भी बैंक के बाहर तीन-तीन लंबी लाइनें लग रही हैं। लोगों का कहना है कि अपने पैसों के लिए दर-दर भटकना पड़ रहा है। बैंक में आते हैं तो कहा जाता है कैश खत्म है ऊपर पंजाब नेशनल बैंक में तो इससे भी बुरा हाल है। लोगों को दो हजार रुपए मिल रहा है। लोग हर दिन आ रहे हैं और कैश मिलने के कारण सरकार व बैंकों के विरुद्ध रोष प्रकट कर रहे हैं। कई कर्मचारियों को उनकी सैलरी नहीं अभी पूरी मिल पाई है, तो यही हाल पूर्व कर्मचारियों का है। लोगों में बैंक-सरकार के प्रति रोष बढ़ता रहा है। ऊपर लोगों ने कहा यदि बैंक तथा सरकार ने बैंकों में पैसा उपलब्ध नहीं करवाया, तो वे सड़कों पर प्रदर्शन करेंगे। उधर बैंकों के अधिकारियों का कहना है कि उन्हें पीछे से पैसे कम मिल रहे हैं। उधर भारतीय स्टेट बैंक के शाखा प्रबंधक अजय शर्मा ने कहा कि हम हर दिन पांच लाख रुपए दे रहे हैं, अब तक नोटबंदी के बाद करीब सात करोड़ रुपए दे चुके हैं। कोई भी पैसा जमा नहीं करवा रहा है। सिर्फ पेट्रोपंप या दो-तीन दुकानदार ही पैसा जमा करवाते हैं। कहां पैसा जा रहा, पता नहीं।  यही हाल रहा तो बैंक में कार्य करना मुश्किल हो जाएगा।

You might also like
?>