Divya Himachal Logo Feb 24th, 2017

खेल प्रतिभाओं को तलाशने का काम शुरू

नाहन  —  आप में यदि दौड़ने की क्षमता है तो आप ओलंपिक 2020 में दौड़ सकते हैं। आपकी प्रतिभा अब सुविधाओं व पैसों के आभाव में दबी नहीं रहेगी। भारत सरकार ने देश भर में छिपी खेल प्रतिभाओं को तलाशने का कार्य शुरू कर दिया है। ओलंपिक 2020 में भारत देश स्वर्ण पदक हासिल कर पाए इसके लिए देश भर में धावकों की तलाश शुरू हो गई है। मजे की बात यह है कि यदि आप में धावक बनने की क्षमता है तो आपके प्रशिक्षण पर होने वाले लाखों रुपए की राशि को भारत सरकार ही वहन करेगी। इन दिनों ओलंपिक 2020 के लिए बेहतर धावक तैयार करने के लिए राष्ट्रीय युवा को-आपरेटिव सोसायटी, गेम इंडिया संस्था के साथ मिलकर खिलाडि़यों की खोज कर रही है। 2020 के लिए अभी से धावकों की खोज शुरू हो गई है। देश के शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में छिपी प्रतिभाओं को सामने लाने के लिए ट्रायल लिए जा रहे हैं। जिला सिरमौर की छुपी खेल प्रतिभाओं को सामने लाने के लिए सोलन जिला में 24 जनवरी को 200, 300 व 400 मीटर दौड़ के ट्रायल होने जा रहे हैं। यह ट्रायल बालक व बालिका वर्ग में 11 से 14 तथा 15 से 17 वर्ष की आयु वर्ग के लिए जाएंगे। इसके लिए नेशनल युवा को-आपरेटिव सोसायटी अपने जिला प्रतिनिधि व वालंटियर के माध्यम से प्रत्येक स्कूल से संपर्क कर इस आयोजन के लिए फार्म भरवाने का कार्य शुरू कर दिया है। सोसायटी के प्रदेश कॉर्डिनेटर व इवेंट आर्गेनाइजर अजय भैरटा व जिला प्रतिनिधि भारत राणा ने नाहन में आयोजित प्रेस वार्ता में बताया कि इस कार्यक्रम के तहत जिला स्तर के उत्कृष्ट धावकों को चुनकर प्रदेश, जोनल व नेशनल लेवल व ओलंपिक के क्वालीफाई राउंड तक पहुंचाया जाता है। इससे गांव के अंतिम छोर में रहने वाले युवा धावकों को ओलंपिक के क्वालिफाई राउंड तक मौका मिलता है। उन्होंने बताया कि हिमाचल में तीन भागों में ट्रायल लिए जा रहे हैं। सिरमौर, सोलन, किन्नौर व शिमला जिला के ट्रायल 24 जनवरी को सोलन के सब्जी मंडी के समीप पुलिस मैदान में सुबह 10 बजे से होंगे। ट्रायल में भाग लेने के लिए इच्छुक खिलाड़ी सोसायटी की वेबसाइट डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू डॉट एनवाईसीएसआईएनडीआईए डॉट कॉम पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं। ट्रायल के लिए निर्धारित किए गए स्थान पर ट्रायल के दिन भी पंजीकरण करवा सकते हैं। जिसके लिए प्रतिभागी को पासपोर्ट साईज फोटो व जन्मतिथि प्रमाण पत्र साथ लाना अनिवार्य है। उन्होंने बताया कि सिरमौर जिला के सभी स्कूलों व खेल विभाग के पास फार्म उपलब्ध करवा दिए गए हैं। उन्होंने बताया कि इन ट्रायलों में भाग लेने वाले सभी युवाओं को बस यात्रा भत्ता व रिफ्रेशमेंट दी जाएगी। उन्होंने बताया कि सोलन में ट्रायल में निर्धारित समय में दौड़ पूरी करने वालों को जोनल स्तर पर जयपुर में होने वाले ट्रायल में शामिल किया जाएगा, जिसमें चयनित खिलाड़ी को नेशनल भेजा जाएगा।

January 12th, 2017

 
 

पोल

क्या हिमाचल में बस अड्डों के नाम बदले जाने चाहिएं?

View Results

Loading ... Loading ...
 
Lingual Support by India Fascinates