Divya Himachal Logo Feb 24th, 2017

पांवटा साहिब में फिरौती का खेल

युवक को जाल में फंसाकर पिता से घर की इज्जत बचाने के बदले मांगे 20 लाख

newsपांवटा साहिब— पांवटा साहिब पुलिस थाने के तहत फिरौती का एक मामला सामने आया है। पुलिस ने शिकायतकर्ता के बयान के आधार पर मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। 20 लाख रुपए की यह रकम घर की इज्जत को बचाने की धमकी देकर मांगी गई थी। पुलिस ने इस मामले में मुबारक अली (28) पुत्र नूरदीन निवासी भगवानपुर को गिरफ्तार कर लिया है, जिससे पूछताछ जारी है। पुलिस थाना पांवटा में दी गई शिकायत में रसीद अली पुत्र दसोंधी खान निवासी माजरा ने बताया है कि गत चार जनवरी को उसके मोबाइल नंबर 9418060986 पर मोबाइल नंबर 9625725112 से फोन आया। उसमें बताया गया कि रसीद का लड़का आरिफ उसकी यानी फोन करने वाले की नाबालिग भतीजी, जोकि पांवटा साहिब गुरुद्वारा में माथा टेकने गई थी, को बहला फुसलाकर विकासनगर ले गया है। यदि अपनी और परिवार की इज्जत बचाना चाहते हो तो 20 लाख रुपए का इंतजाम कर लो। घटना के बाद से परिवार परेशान हो गया। शिकायत मिलने के बाद पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई और मंगलवार को मामले का पर्दाफाश करने का दावा भी कर दिया। मंगलवार को मामले की संगीनता को देखते हुए एसपी सिरमौर सौम्या साम्बशिवन भी पांवटा पहुंचीं और इस पूरे मामले की परतें खोलीं। उन्होंने बताया कि पकड़ा गया आरोपी अपनी महिला मित्रों के साथ युवक या व्यक्ति को चंगुल में फंसाकर फिरौती या ब्लैकमेलिंग का अपराध करता था। इसी की आड़ में आरिफ के पिता से ब्लैकमेलिंग कर 20 लाख रुपए की फिरौती की मांग यह कहते हुए की गई थी कि घर की इज्जत बचाना चाहते हो तो पैसे दे दो। उन्होंने बताया कि गैंग पहले ऐसे लोगों की तलाश करती थी जो आसानी से झांसे में आ जाएं। इसके बाद युवतियां ग्राहकों को फोन करना शुरू करती थीं। इसके बाद मिलने के लिए जगह तय कर दी जाती थी। अपने शिकार के साथ होटल में ठहरने के कुछ दिनों बाद ग्राहक बने लोगों से फिरौती की मांग शुरू हो जाती थी। बताते हैं कि आरिफ नाम का लड़का इसी जाल में फंस गया था। बताया जा रहा है कि पीडि़त ने माजरा पुल के नीचे फिरौती के पांच लाख रुपए रख भी दिए गए थे, लेकिन आरोपी को भनक लग गई थी, इसलिए वह रकम को पुल के नीचे से उठाने नहीं आया। मामले की पुष्टि करते हुए डीएसपी पांवटा भीष्म ठाकुर ने बताया कि मिश्रवाला निवासी रसीद अली की शिकायत पर पुलिस ने भादस की धारा 385 के तहत मामला दर्ज कर आगामी कार्रवाई शुरू की। मोबाइल लोकेशन के आधार पर पुलिस ने पांवटा की एक मोबाइल रिपेयरिंग की दुकान पर छापामारी की। जहां से आरोपी मुबारक अली (28) पुत्र नूरदीन निवासी भगवानपुर का सुराग पुलिस के हाथ लगा। अब पुलिस उस युवती की तलाश कर रही है जो आरिफ के साथ विकासनगर में होटल के कमरे में थी। आरोपी को कोर्ट में पेश किया गया है, जहां से उसे तीन दिन का पुलिस रिमांड मिला है। आरोपी से पूछताछ की जा रही है।

January 11th, 2017

 
 

पोल

क्या हिमाचल में बस अड्डों के नाम बदले जाने चाहिएं?

View Results

Loading ... Loading ...
 
Lingual Support by India Fascinates