Divya Himachal Logo Apr 25th, 2017

अब…लेट्स फुटबाल

‘ दिव्य हिमाचल फुटबाल लीग ’

NEWS‘दिव्य हिमाचल मीडिया ग्रुप’ के बहुप्रतिक्षित मेगा स्पोर्ट्स इवेंट फुटबाल लीग का शाहपुर में कांगड़ा यूनाइटेड टीम के लिए ट्रायल के साथ शुक्रवार को आगाज हो गया। हिमाचल के फुटबाल में जान फूंकने के लिए ‘दिव्य हिमाचल’ की मुहिम के लिए पहले ही ट्रायल में युवाओं के साथ विशेषज्ञ और बुद्धिजीवी कदम से कदम मिलाते दिखे। लीग की शुरुआत मई माह में धर्मशाला में होगी, इसमें प्रदेशभर के फुटबालरों को नई ऊंचाइयों पर पहुंचने का सुनहरी मौका मिलेगा…

शाहपुर – ‘दिव्य हिमाचल मीडिया ग्रुप’ ने शुक्रवार को अपने मेगा इवेंट फुटबाल लीग के पहले ट्रायल का शाहपुर में श्रीगणेश किया। हिमाचल में पहली बार हो रहे फुटबाल के इस महाकुंभ की शुरुआत पर तकनीकी शिक्षण संस्थान शाहपुर में सैकड़ों युवा पहुंचे थे। इस अनोखी मुहिम की युवा खिलाडि़यों ने ही नहीं कांगड़ा के बुद्विजीवी व महिला वर्ग ने भी खूब प्रशंसा की। शुभारंभ पर दर्शकों व खिलाडि़यों ने ‘दिव्य हिमाचल’ का आभार जताया। मैदान में पहुंचे प्रत्येक व्यक्ति ने इसे युवाओं के व्यक्त्वि विकास के लिए अब तक का सबसे बड़ा मंच बताया। ‘दिव्य हिमाचल मीडिया ग्रुप’ ने मॉडलिंग, डांस और संगीत के मेगा इवेंटों की अपार सफलता के बाद शुक्रवार को पहले फुटबाल महाकुंभ का आगाज किया। ट्रायल के लिए प्रदेश भर के विभिन्न जिलों से युवा गुरुवार को ही शाहपुर पहुंच गए थे और सुबह से ही मैदान में अभ्यास करने के बाद कतारों में लग गए। फुटबाल के एक्सपर्ट ने अलग-अलग तरह से तकनीकी पहलुओं की कसौटी पर युवाओं को परखा। शाहपुर से शुरू हुई यह मुहिम अप्रैल माह में पूरे प्रदेश में चलेगी। इसके बाद मई माह के शुरुआती सप्ताह में इस महाकुंभ का आयोजन खेल नगरी धर्मशाला में किया जाएगा। इसमें प्रदेश भर की आठ टीमें आमने-सामने होंगी। प्रदेश में पहली दफा फुटबाल खेल से जुड़े खिलाडि़यों को इस क्षेत्र में प्रोमोट करने के लिए ‘दिव्य हिमाचल’ फुटबाल लीग का आयोजन किया जा रहा है।

शाहपुर में कांगड़ा टीम के लिए ट्रायल के साथ ‘दिव्य हिमाचल’ की फुटबाल के लिए मुहिम शुरू, आठ टीमें होंगी आमने-सामने

एक दिन पहले ही पहुंचे

‘दिव्य हिमाचल फुटबाल लीग’ के पहले ट्रायल के दिन सुबह 10 बजे से पंजीकरण प्रक्रिया शुरू की गई। इससे पहले ही मैदान में युवाओं की भीड़ जमा हो गई थी। ट्रायल में प्रदेश भर  के 16 आयु वर्ग से अधिक के युवा खिलाडि़यों ने भाग लिया। ट्रायल में भाग लेने वाले युवाआें के खेल की परख फुटबाल गेम से जुड़े विशेषज्ञों व कोच ने की। सुबह शुरू हुआ यह दौर शाम तक चलता रहा। चयन के बाद  फुटबाल लीग-2017 के आयोजन से पहले कोचिंग भी दी जाएगी।

ऐसा है युवाआें में क्रेज

विजय लगवाल, शाहपुर

1. टैरेस से ट्रायल देने आए शिव कुमार ने कहा कि तीन सालों से वह फुटबाल खेल रहे है तथा ‘दिव्य हिमाचल’ के प्रयास से आसमान छूने का सपना संजोए है व वह मिडफील्डर स्ट्राइकर के स्थान पर खेलते हैं।

2. रैहन के अमन कुमार, जो कि लेफ्ट मिड फील्डर की पोजीशन पर खेलते हैं, 18 वर्षीय जमा दो का छात्र है। छह साल से फुटबाल खेल रहे हैं। इस प्रयास के लिए उन्होंने ‘दिव्य हिमाचल? का आभार प्रकट किया।

3. कुलविंद्र पालमपुर से राइट आउट खेलना पसंद करते हैं । ‘दिव्य हिमाचल’ में प्रकाशित समाचारों के माध्यम से मिली जानकारी पर शाहपुर ट्रायल देने पहुंचे व ‘दिव्य हिमाचल’ के इस अभियान पर आभार प्रकट किया।

4. देहरा के अंकिश आठ सालों से फुटबाल खेल रहे हैं, राइट हाफ के स्थान पर खेलना पसंद करते हैं। ‘दिव्य हिमाचल’ के प्रयास से आगे बढ़ने की उम्मीद बंधी है, जिसके लिए ‘दिव्य हिमाचल’ का धन्यवाद करते हैं।

5. कांगड़ा के 23 वर्षीय रजनीश, शुभम मेहरा, गगल के समीर सनोरा, शाहुपुर के कावेश चौहान ने ‘दिव्य हिमाचल’ के प्रयास से अपनी प्रतिभा दिखाने का अवसर मिला है, जिसके लिए ‘दिव्य हिमाचल’ के आभारी हैं। वहीं, 19 वर्षीय मनाली से राहुल ठाकुर और मंडी से मयूख शर्मा ने बताया कि समाचार पत्र के माध्यम से जानकारी मिलने पर ट्रायल देने आए तथा ‘दिव्य हिमाचल’ के प्रयास की सराहना की। वहीं, इस दौरान इन खिलाडि़यों अपने-अपने पसंदीदा फुटबालरों का भी जिक्र किया। किसी को क्रिस्टीयानो रोनाल्डो पसंद है तो किसी की पसंद लियोनल मैसी है, वहीं कई नेमार जूनियर को पसंद करते हैं।

हिमाचली फुटबालर भरेंगे ऊंची उड़ान

शाहपुर – ‘दिव्य हिमाचल मीडिया ग्रुप’ की फुटबाल लीग युवाओं के करियर के लिए सबसे कारगर सिद्ध होगी। यह शुक्रवार को शाहपुर में शुरू हुए ट्रायल के मौके पर विशेषज्ञों और बुद्धिजीवियों ने कही। कार्यक्रम में विशेष रूप से पहुंचे शाहपुर आईटीआई के प्रधानाचार्य एसके लखनपाल ने कहा कि फुटबाल को आगे बढ़ाने की ‘दिव्य हिमाचल’ की मुहिम से सैकड़ों युवा नशे से बचेंगे। बदलते परिवेश में युवाओं को क्रिकेट से हटकर ‘दिव्य हिमाचल’ ने फुटबाल का बड़ा मंच प्रदान किया है। ऐसे मंच व आयोजन ही गांव में छिपी प्रतिभाओं को आगे बढ़ाते हैं। वहीं, कांगड़ा यूनाइटेड टीम के मालिक एवं प्रदेश फुटबाल एसोसिएशन के उपाध्यक्ष एवं हाइट इंजीनियरिंग कालेज के चेयरमैन नरेंद्र राणा ने कहा कि वह वर्षों से फुटबाल खेल से जुड़े हुए हैं, लेकिन ‘दिव्य हिमाचल’ ने जो मंच युवाओं के लिए प्रदान किया है, उसके दूरगामी परिणाम पहले ट्रायल में ही दिख रहे हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे आयोजन युवा पीढ़ी के लिए मार्गदर्शक बनते हैं। क्रिकेट के प्रभाव में फुटबाल सहित अन्य खेल लुप्त होने के कगार पर पहुंच गए थे, लेकिन अब इन्हें नई संजीवनी मिलेगी। श्री राणा ने कहा कि हाइट इंजीनियर कालेज ने हमेशा ही युवाओं की ओवरआल पर्सनेल्टी डिवेलपमेंट की बात की है। अब ‘दिव्य हिमाचल’ से जुड़ कर इस क्षेत्र में इतिहास बनाया जाएगा। कांगड़ा यूनाइटेड टीम के मैनेजर एवं प्रदेश फुटबाल एसोशिएशन के सदस्य राकेश चौहान ने कहा कि फुटबाल उनकी रग-रग में बसा है और जब उन्हें मालूम हुआ कि ‘दिव्य हिमाचल’ फुटबाल के खिलाडि़यों को बड़ा मंच प्रदान कर रहा है तो उन्हें बिना कोई विचार किए तुरंत इससे जुड़ने का निर्णय लिया। श्री चौहान ने कहा कि हालांकि उन्हें इस सारी प्रक्रिया में कई मुश्किलें भी आईं, लेकिन उन्होंने बिना परवाह किए, सकारात्मक ऊर्जा से जुड़े लोगों को इस कारवां में जोड़ कर कांगड़ा यूनाइटेड के बहाने प्रदेश के युवाओं को मंच देने का प्रयास किया। इस मौके पर हाइट इंजीनियरिंग कालेज के उपाध्यक्ष दुष्यंत कायस्ता, कांगड़ा यूनाइटेड टीम के प्रमुख सहयोगी जेपी मोंगरा, यूसी मोंगरा, ईशान पटाकू, बाबू राम, लक्ष्मीकांत, जीवन कौंडल एवं अनिल सैणी ने ‘दिव्य हिमाचल मीडिया ग्रुप’ के प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि ऐसे मंच युवाओं को नशे से दूर करने और उनके व्यक्तित्व विकास में अहम योगदान देते हैं। उन्होंने कहा कि फुटबाल को प्रदेश की नंबर वन गेम बनाने के लिए वह ‘दिव्य हिमाचल’ से मिलकर हरसंभव प्रयास करेंगे।

अभिभावक खुश, जताई खुशी

भवारना से आए आर्यन सूद के अभिभावक राजीव सूद व शिवानी सूद ने ‘दिव्य हिमाचल’ के प्रयास की सराहना करते हुए कहा कि ‘दिव्य हिमाचल’ के हम बहुत-बहुत आभारी हैं, जिन्होंने फुटबाल खेल को हिमाचल जैसे राज्य, जहां कम लोग ही इसे खेलते थे, को बुलंदियों पर पहुंचाने का प्रयत्न किया है। इससे जहां फुटबाल के खिलाडि़यों को प्लेटफॉर्म मिला है वहीं इस खेल का भी हिमाचल में नाम होगा, जिसके लिए ‘दिव्य हिमाचल’ के वह धन्यवादी हैं।

* ‘दिव्य हिमाचल’ की फुटबाल लीग पर सराहना

* विशेषज्ञ-बुद्धिजीवी बोले, मीडिया ग्रुप की मुहिम नशे का तोड़

* पहले ही ट्रायल में दिखे लीग के दूरगामी परिणाम

* ‘दिव्य हिमाचल’ संग कदम से कदम मिलाने का वादा

NEWS

April 7th, 2017

 
 

पोल

हिमाचल में यात्रा के लिए कौन सी बसें सुरक्षित हैं?

View Results

Loading ... Loading ...
 
Lingual Support by India Fascinates